DA Image
30 अक्तूबर, 2020|12:46|IST

अगली स्टोरी

कोरोना वायरस संक्रमितों के गांव के सभी इंट्री प्वाइंट का डीसी-एसपी ने किया निरीक्षण

कोरोना वायरस संक्रमितों के गांव के सभी इंट्री प्वाइंट का डीसी-एसपी ने किया निरीक्षण

उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि व पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा सहित अन्य वरीय पदाधिकारियों ने सोमवार को जिले के लेस्लीगंज प्रखंड क्षेत्र के कोरोना संक्रमित मरीजों के गांव का निरीक्षण किया। कोरोना संक्रमित मरीज चिह्नित होने के तीसरे दिन उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक आदि ने गांव के सभी इंट्री प्वाइंट का निरीक्षण किया और बैरिकेटिंग आदि को लेकर ऑन ड्यूटी पुलिसकर्मियों व मजिस्ट्रेट को आवश्यक निर्देश दिया। दोनों अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण गांव के सभी जोन में जाकर मरीज चिह्नित होने के बाद अबतक की गयी व्यवस्थाओं की जानकारी दी। साथ ही अन्य व्यवस्थाओं को तय अवधि में दुरुस्त करने का निर्देश दिया। नजारत उप समाहर्ता शैलेश कुमार, सदर अनुमंडल पदाधिकारी सुरजीत कुमार सिंह, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी आफताब आलम, एसडीपीओ सुरजीत कुमार निरीक्षण के दौरान मौजूद थे। पुलिस अधीक्षक ने कोरोना संक्रमित मरीज के गांव में पुलिसकर्मियों को सावधानी एवं सर्तकता के साथ सक्रिय रहने एवं कड़ी निगरानी करने का निदेश दिया। गांव के कोई भी व्यक्ति बाहर न जाए और बाहर से कोई व्यक्ति गांव में प्रवेश न करे, यह सख्त तरीके से लागू करने का निर्देश दिया गया। इधर संक्रमितों के मकान के करीब में रहने वाले करीब डेढ़ दर्जन परिवारों पर भी प्रशासन गंभीर नजर बनाये हुए है। रोजा रखने वाले व्यक्तियों को उचित मूल्य पर उपलब्ध कराया जायेगा खाद्य पैकेट : उपायुक्त ने इस दौरान कहा कि गांव के लोगों को हर जरूरत की चीजें उनके घर पर उपलब्ध कराई जा रही। सभी लोग अपने घरों में ही रहें और सामाजिक दूरी का अनुपालन करें यह प्रयास किया जा रहा है ताकि कोरोना संक्रमण से बचा जा सके। उपायुक्त ने गांव में मेडिकल सेंटर खोलने, 24 घंटे बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित कराने, रजमान के मद्देजनर रोजा रखने वाले व्यक्तियों, दुधमुहें बच्चे वाले घरों और गर्भवती महिलाओं को तत्काल चिह्नित करने का निर्देश दिया ताकि गांव सील होने की स्थिति में उनके लिए आवश्यक व्यवस्था की जा सके। मेडिकल सेंटर खुलने से आवश्यक दवाओं की जरूरत वाले व्यक्ति व परिवारों को दवा एवं तत्काल इलाज मिल सकेगा। रोजा रखने वालों को खाद्य सामग्री का पैकेट तैयार कराकर उचित मूल्य पर उपलब्ध कराया जायेगा। दुधमुहें बच्चों वाले परिवारों को दूध की आपूर्ति की जायेगी। वहीं गर्भवती महिलाओं को ससमय स्वास्थ्य जांच की समुचित प्रबंध एवं एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी। उपायुक्त ने टैंकर से पेयजलापूर्ति करने एवं पशु रखने वाले पशुपालकों के लिए तत्काल पशु चारा उपलब्ध कराने का निदेश दिया। माइकिंग के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर प्रत्येक घरों में राशन-पानी की उपलब्धता कराने का निर्देश दिया ताकि किसी को परेशानी न हो।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DC-SP inspects all entry points of Corona virus infected village