DA Image
19 सितम्बर, 2020|10:39|IST

अगली स्टोरी

मुख्यमंत्री के रिट्वीट करते हुए मायापुर गांव के कोरवा टोला पहुंचे बीडीओ, सुनी समस्याएं

default image

पलामू जिले के रामगढ़ प्रखंड अंतर्गत हुटार पंचायत के मायापुर गांव स्थित कोरवा टोला के 30 परिवारों के बीच महज दो के पास ही मनरेगा का जॉब कार्ड है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार की शाम करीब चार बजे राइट-टू-फूड कैंपेन के कार्यकर्ता धीरज कुमार के ट्वीट को रिट्वीट कर पलामू के डीसी को उक्त मामले की जांच कर संबंधित परिवारों को मनरेगा सहित सभी सरकारी योजनाओं से जोड़ने और कृत कार्रवाई की जानकारी देने का निर्देश दिया। इस आलोक में रामगढ़ के बीडीओ नरेश वर्मा जब मायापुर गांव के कोरवा टोला पहुंचे तब यह सच्चाई सामने आयी। उन्होंने तत्काल जॉब कार्ड के लिए आवेदन देने वाले 16 परिवारों को जॉब कार्ड जारी करने की कार्रवाई प्रारंभ की। सोमवार की शाम में मायापुर के कोरवा टोला पहुंचकर बीडीओ ने ग्रामीणों से बातचीत कर सभी जानकारी हासिल की ताकि उसे उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री को उपलब्ध कराया जा सके। विकास की दौड़ में काफी पिछड़ा हुआ है मायापुर गांव का कोरवा टोला : लातेहार जिले के बरवाडीह प्रखंड के सीमावर्ती पलामू जिले के रामगढ़ प्रखंड में हुटार विकास की दौड़ में काफी पिछड़ा हुआ पंचायत है। इस पंचायत में भी मायापुर गांव का कोरवा टोला काफी पिछड़ा हुआ है। आदिम जनजाति कोरवा परिवारों के इस टोले तक पहुंचने के लिए रास्ते भी ठीक नहीं है। गांव पहुंचे बीडीओ के पास आवास के लिए एक विधवा ने आवेदन दिया जिसके आलोक में उसे अंबेदकर आवास की स्वीकृति देने की प्रक्रिया की गयी। बीडीओ ने बताया कि कोरवा टोला में निवास करने वाले 32 परिवारों में 25 को राशन मिल रहा है। शेष सात परिवार पूर्व के परिवारों के ही सदस्य है जिन्हे लाभान्वित करने की दिशा में कार्रवाई की जा रही है। पेंशन के लिए 17 आवेदन आये हैं परंतु आठ के पास ही आधार कार्ड है जिनका खाता खुलवाने के लिए प्रज्ञा केंद्र के माध्यम से मंगलवार को कार्य किया जायेगा। शेष का आधार कार्ड बनाने की दिशा में पहल की जायेगी। संबंधित स्टाफ के कोरोना पोजिटिव होने के कारण विकल्प के बारे में उपायुक्त से चर्चा कर निर्णय लिया जायेगा। शेष सुविधाओं को सुलभ कराने के लिए अधिकारियों का दल मंगलवार को गांव पहुंचेगा। चालू वित्तीय वर्ष में हुटार पंचायत में मनरेगा से 20,331 मानव दिवस करना है सृजित: उल्लेखनीय है कि धीरज कुमार ने ट्वीट किया था कि पलामू के रामगढ़ के हुटार पंचायत के मायापुर गाँव के कोरवा टोला में 30 परिवार हैं। इन्हें नरेगा के तहत रोजगार नहीं मिला है। कई परिवारों का राशन कार्ड-पेंशन नहीं है। टोला के लोग अन्य सरकारी सुविधाओं से भी वंचित हैं। दूसरी तरफ यह जिक्र करना भी प्रासांगिक होगा कि मनरेगा के तहत चालू वित्तीय वर्ष में 20 हजार 331 मानव दिवस सृजित करने का लक्ष्य बनाया गया है। इसमें मार्च तक 12607 मानव दिवस सृजित करना था। परंतु वित्तीय वर्ष के पांच महीना बीत जाने के बावजूद किसी भी परिवार को अबतक 100 दिन का रोजगार देने का लक्ष्य हासिल नहीं हो सका है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BDO arrives at Korwa Tola in Mayapur village while retiring CM