ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड लोहरदगाकहीं बोरिंग कर छोड़ा गया, तो कहीं जलमीनार बनाकर, लेकिन पानी के नहीं हुए दर्शन

कहीं बोरिंग कर छोड़ा गया, तो कहीं जलमीनार बनाकर, लेकिन पानी के नहीं हुए दर्शन

लोहरदगा भंडरा प्रखंड के गावों में नल जल योजना से लोगों के उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आ रहा है। योजना के तहत कहीं जलमीनार तो लगा लेकिन अब तक लोगों...

कहीं बोरिंग कर छोड़ा गया, तो कहीं जलमीनार बनाकर, लेकिन पानी के नहीं हुए दर्शन
हिन्दुस्तान टीम,लोहरदगाMon, 17 Jun 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

भंडरा, प्रतिनिधि।
लोहरदगा भंडरा प्रखंड के गावों में नल जल योजना से लोगों के उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आ रहा है। योजना के तहत कहीं जलमीनार तो लगा लेकिन अब तक लोगों को पानी नसीब नहीं हुआ है। कहीं आरंभ से ही खराब है, तो कहीं बोरिंग कर छोड़ दिया गया है। लोग अभी भी पेयजल की समस्या से जूझने को विवश हैं।

बड़ी बात यह है की योजना के तहत सभी पॉइंट को पांच साल तक देखरेख की जिम्मेवारी संवेदक को है। लेकिन इस आदेश का अनुपालन नहीं हो पा रहा है। चट्टी बाजारटांड में मीनार से लगा पाइप फटा होने के कारण हमेशा पानी बहते रहता है। इसे देखने वाला कोई नहीं है। भीठा गोटाटोली में आरंभ से ही जल नल योजना खराब पड़ा है। भीठा में ही सरनाटोली, फूलवाईर टोली में फिलहाल योजना से लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। जबकि चट्टी सोकरा में योजना अधूरा पड़ा है। भौरो पंचायत के बलसोता पोखराटोली और सरनाटोली में भी लोग पानी के इंतजार में हैं। भौरो गरीया गड्ढा में कनेक्शन ही नहीं दिया गया है। गडरपो पंचायत के भैसमुंदो में मुस्लिम मुहल्ला, टंगराटोली, डीपाटोली, टंगरा टोली मोड़, स्कूल के पास का योजना भी अधूरा पड़ा है। इसी तरह चट्टी नीचेटोली में राशन दुकान के पास लगा मीनार से भी लोगों को अबतक पर्याप्त पानी नसीब नहीं हुआ है। लोगों ने बताया कि अबतक टंकी में पानी नहीं भरा है। घंटे भर में ही टंकी का पानी समाप्त हो जाता है। चट्टी में ही गणिनाथ मंदिर के पास नल जल योजना के तहत करीब दो माह पहले बोरिंग किया गया है। बोरिंग के बाद उसे यूं हीं छोड़ दिया गया है। भरी गर्मी में लोग नल जल योजना से पानी का इंतजार करते रह गये। लेकिन लोगों को पानी नहीं मिला। यही स्थिति प्रखंड के कई गावों में है। जहां टंकी तो लगा लेकिन लोगों को पर्याप्त पानी का नसीब नहीं हो रहा है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।