DA Image
22 अक्तूबर, 2020|10:41|IST

अगली स्टोरी

दुर्गा पूजा में पंडाल की जगह मंडप बनेंगे

default image

अग्रसेन पथ स्थित लोहरदगा यूको बैंक शाखा कर्मी के कोविड पॉजिटिव होने के कारण प्रशासन ने उसे भी अगले आदेश तक के लिए सील कर दिया है। लोहरदगा पहले से ही बैंक ऑफ इंडिया मुख्य शाखा के अलावा इंडसइन और सहारा नन बैंकिंग कंपनी की शाखा सील है। हालांकि यूको बैंक को छोड़कर इन तमाम ब्रांच का सैनिटाइज करवा दिया गया है। इस बार दुर्गा पूजा में भी कोविड का असर रहेगा। लोहरदगा केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति की बैठक में पंडाल और मूर्ति के स्वरूप को लेकर चर्चा की गई। बैठक में ही सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर मास्क का असर दिखा। दुर्गा पूजा समिति ने निर्णय लिया कि पंडाल के जगह मंडप बनाया जाएगा। सभी पंडालों में विधिवत पूजा किया जाएगा। मूर्ति का साइज सामान्य रहेगा। सभी पंडाल वालों को कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए मास्क की व्यवस्था व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है।

आठ पुरुष और तीन महिलाएं पाजिटिव

लोहरदगा के सिविल सर्जन डॉ विजय कुमार और जिला कोविड नोडल अधिकारी डॉ शंभूनाथ चौधरी ने बताया कि 30 सितंबर को लोहरदगा में 11 और नए कोविड पॉजिटिव नए मरीज मिले हैं। इनमें आठ पुरुष और तीन महिलाएं शामिल हैं। सभी को जिले के कोविड सेंटरों में भर्ती करा दिया गया है। सब की स्थिति स्थिर है। नए मरीजों में सेरेंगहातू पुलिस पिकेट के दो जवान, इसी गांव के एक पुरुष, कुडू प्रखंड के कुंदो में 36 वर्षीय पुरुष, टोरी के 32 वर्षीय पुरुष, बेदाल के 35 वर्षीय पुरुष, महावीर चौक के 55 वर्षीय पुरुष, महादेव टोली के 36 वर्षीय पुरुष और यूको बैंक की 19 और 33 वर्षीय महिला, न्यू रोड की 35 वर्षीय महिला शामिल है।

25 रोगियों को कोविड केयर सेंटर से छुट्टी

लोहरदगा के सिविल सर्जन डॉ विजय कुमार और डॉक्टर एसएन चौधरी ने बताया कि 30 सितंबर को 19 पुरुष और छह महिला समेत 25 को पूरी तरह से स्वस्थ होने पर कोविड केयर सेंटर से छुट्टी दे दी गई है। अब इस जिले में कुल संक्रमित 1363 मरीजों में 932 को छुट्टी मिल चुकी है। 30 सितंबर को जिन लोगों को छुट्टी दी गई:- उसमें हिंडालको के चार लोग शामिल है। इसके अलावा पावर ग्रिड के तीन, बीआईडी पेट्रोल पंप के दो, अग्रवाल मुहल्ला के तीन, कोर्ट रोड के दो, राणा टोली, कुम्हरिया, अरको, हेंदलासों, कचहरी मोड़ और अखौरी कॉलोनी के एक-एक मरीज को तंदुरुस्त होने के बाद छुट्टी दी गई है।

25 प्रवासी लोहरदगा लौटे

सिविल सर्जन डॉ कुमार ने बताया कि 30 सितंबर को भी लोहरदगा के 25 प्रवासी अपने गृह जिला लौटे हैं। सभी को संदिग्ध मानकर होम कोरंटाइन कर दिया गया है। इनमें सदर अस्पताल में भी किस्को में तीन, सेन्हा में दो को कोरंटाइन किया गया है। सभी झारखंड के विभिन्न जिलों से लोहरदगा लौटे हैं।

अब तक 932 लोग कोरोना से ठीक हुए

अब तक इस जिले में पांच मई के बाद 44822 प्रवासी लौट चुके हैं। डॉ कुमार ने बताया कि लोहरदगा जिले में अब तक 34349 सैंपल लिए गए हैं। इसमें 33603 सैंपल की जांच की गई। इसमें 32414 सैंपल के रिपोर्ट नेगेटिव आए हैं। 1363 लोग अब तक संक्रमित मिले हैं। 572 लोगों के रिपोर्ट अभी रांची में आरटीपीसीआर वाला लटका हुआ है। उसके परिणाम रांची से आने हैं। अब तक 932 लोगों ने कोरोना को मात देकर अपने घरों को लौट चुके हैं। 431 मरीज अभी कोविड एक्टिव हैं। जिन्हें कोविड केयर सेंटर में रखा गया है। लोहरदगा जिले में आईवीआरएस के तहत 163 मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। इस जिले में कोरोना के कारण सात लोगों की मौत हो चुकी है।- डॉ कुमार ने बताया कि 30 सितंबर को लोहरदगा प्रखंड में 316, सेन्हा में 27, भंडरा में 23, कुडू में 45 और किस्को में 20 एक्टिव मरीज हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:In Durga Puja pavilions will be replaced instead of pandals