ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड लातेहारजंगलों में हरे वृक्षों की अवैध कटाई-ढोलाई जोरों पर , वन प्रबंधन बेखबर

जंगलों में हरे वृक्षों की अवैध कटाई-ढोलाई जोरों पर , वन प्रबंधन बेखबर

बेतला के जंगलों में इनदिनों हरे वृक्षों की अवैध कटाई-ढोलाई जोरों पर जारी है। बेतला रेंज के कम्पार्टमेन्ट एक में पलामू किला परिसर के कमलदहझील के पास...

जंगलों में हरे वृक्षों की अवैध कटाई-ढोलाई जोरों पर , वन प्रबंधन बेखबर
हिन्दुस्तान टीम,लातेहारSat, 25 May 2024 01:30 AM
ऐप पर पढ़ें

बेतला प्रतिनिधि । बेतला के जंगलों में इनदिनों हरे वृक्षों की अवैध कटाई-ढोलाई जोरों पर जारी है। बेतला रेंज के कम्पार्टमेन्ट एक में पलामू किला परिसर के कमलदहझील के पास तथा बेतला-कुटमू मार्ग पर दिनदहाड़े दर्जनों ग्रामीणों को जंगलों में अवैध रूप से काटे गए बेशकीमती हरे वृक्ष की लकड़ियों को ढोते देख मार्ग से गुजरने वाले लोग काफी हैरान हैं। वहीं वन प्रबंधन इससे बिल्कुल बेखबर है। आसपास के ग्रामीणों की माने तो जंगल और जानवरों की सुरक्षा में लगे वनकर्मी इनदिनों विभागीय योजनाओं की ठेकेदारी करने में मशगूल हैं। वन एवं वन्य जीवों की सुरक्षा से फिलहाल उनका कोई सरोकार नहीं रह गया है। यही वजह है कि सक्रिय लकड़ी चोर और वन माफिया इसका भरपूर फायदा उठा रहे हैं। वहीं ग्रामीणों ने कहा कि जंगलों में जिस कदर हरे वृक्षों की धुआंधार अवैध कटाई-ढोलाई की जा रही है, वह दिन दूर नहीं जब बहुत जल्द जंगल वीरान हो जाएगा। पेड़ की छांव के लिए लोगों और जानवरों को तरसना पड़ेगा। इधर बेतला के प्रभारी वनपाल संतोष सिंह और शशांक शेखर पांडेय ने कर्तव्य में किसी तरह की कोताही या लापरवाही बरते जाने की बात से सीधा इनकार करते कहा कि जंगल और जानवरों की सुरक्षा उनकी पहली प्राथमिकता है। वनकर्मियों की खास टीम द्वारा जंगलों में नियमित गश्त जारी है। पकड़ में आने पर दोषियों के खिलाफ निश्चित तौर पर सख्त कार्रवाई किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।