ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड लातेहारशिलान्यास के सात महीनों बाद भी अधर में सड़क निर्माण कार्य

शिलान्यास के सात महीनों बाद भी अधर में सड़क निर्माण कार्य

भले ही विकास को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हों, लेकिन प्रशासनिक उपेक्षा एवं राजनेताओं में विकास की इच्छाशक्ति नहीं होने के चलते छिपादोहर मुख्य...

शिलान्यास के सात महीनों बाद भी अधर में सड़क निर्माण कार्य
हिन्दुस्तान टीम,लातेहारTue, 28 May 2024 02:00 AM
ऐप पर पढ़ें

छिपादोहर प्रतिनिधि। भले ही विकास को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हों, लेकिन प्रशासनिक उपेक्षा एवं राजनेताओं में विकास की इच्छाशक्ति नहीं होने के चलते छिपादोहर मुख्य मार्ग की सड़क अपनी बदहाली पर आुसू बहा रहा है। कई गावों को जोड़नेवाली इस सड़क से प्रतिदिन सैकड़ों लोग सफर करते हैं। दिनभर वाहनों की आवाजाही लगी रहती है। फिर भी किसी को इसकी सुध लेने की फुर्सत नहीं है। सड़क में जगह-जगह बने गड्ढे इसकी जर्जरता को खुद बया करती है। सड़क जर्जर होने के कारण दोपहिया व छोटे वाहन चालकों को तो भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसके चलते इस मार्ग में अक्सर हादसा भी होता रहता हैं। भीषण गर्मी में ग्रामीण जहां उड़ती धूल से त्रस्त हैं, वहीं बरसात के दिनों में तो सड़क की हालत और भी नारकीय हो जाती है। अभिभावक अपने बच्चे को इस सड़क से होकर स्कूल भेजने में भी डरते हैं। क्षेत्र के लोगों ने इस सड़क के पुनर्निर्माण की मांग जोर शोर से उठाया। तब क्षेत्रीय विधायक रामचन्द्र सिंह द्वारा सड़क की सौगात क्षेत्र के लोगो को मिली थी । लेकिन मेदिनीनगर-महुआडांड़ मार्ग को छिपादोहर से जोड़ने वाली यह सड़क शिलान्यास के करीब सात माह बीत जाने के बाद भी जर्जर है। सड़क का शिलान्यास तो काफी तामझाम के साथ किया गया, लेकिन सड़क का लाभ क्षेत्र के लोगों को नहीं मिल पाया। अभी भी लोग जर्जर सड़क से आवागमन करने को विवश हैं। सड़क निर्माण नही होने से लोगों में आक्रोश है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।