DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिकनी कोल माइंस बंद रहने से सभी दुकानें हो गयी बंद

सिकनी कोल माइंस बंद रहने से सभी दुकानें हो गयी बंद

अप्रैल-मई माह कोयला के बेहतर उत्पादन व डिस्पैच के लिये महत्वपूर्ण माना गया है। इस सीजन में सिकनी ओसी कोल माइंस के बंद रहने से निगम समेत इससे जुड़े सभी सभी पक्षों को चौतरफा नुकसान हो रहा है। अब तक निगम को करीब डेढ़ करोड़ रूपये की चपत लगी है । माइंस क्षेत्र की सभी दुकानें बंद हो गयी हैं। जिसकी भरपायी के लिये मैराथन प्रयास करना होगा। बरसात का मौसम भी करीबतर है। बताते चलें कि संवेदक मे. संजय ट्रांसपोर्ट एजेंसी द्वारा भुगतान समेत अन्य मांग को लेकर 16 मई से रेजिंग बंद कर दिया था। इस बाबत निगम मुख्यालय को विधिवत पत्र भी प्रेषित किया था। तब से परिसर में सन्नाटा पसरा है। पास की सभी दुकानें बंद हो गयी हैं। कोल क्रेता, डीओ होल्डर्स व ट्रक चालक-आनर्स की हालत पतली हो गयी है। 1200 कोयला लोडिंग मजदुरों के समक्ष रोटी के लाले पड़ गये हैं। संवेदक को भी काफी नुकसान उठाना पड़ा है। प्रभावित क्षेत्र की रौनक फीकी पड़ गयी है। रोजगार सृजन के क्षेत्र में इस कोल माइंस का महत्वपूर्ण योगदान है।

एक सप्ताह में कोयला उत्पादन के आसार

जेएसएमडीसी रांची द्वारा संवेदक के समस्या का निदान करनें की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। मामले का हल निकलते ही रेजिंग शुरू हो जायेगा। एक सप्ताह में पुन: उत्पादन के आसार हैं। खान अभिकर्ता एबी शयनम नें कहा कि जल्द ही स्थिती सामान्य हो जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:All shops are closed after the suspension of Sikni coal mines