Water conservation 50 thousand people in Mango for water - जलसंकट : मानगो में 50 हजार लोग पानी के लिए तरसे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलसंकट : मानगो में 50 हजार लोग पानी के लिए तरसे

जलसंकट :  मानगो में 50 हजार लोग पानी के लिए तरसे

1 / 2मानगो मून सिटी के पास डिमना रोड में गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा बिछाई जा रही पाइप लाइन के लिए खुदाई से गुरुवार को जलापूर्ति योजना की पाइप फट गई। इससे आधा दर्जन कॉलोनियों में पानी सप्लाई ठप...

जलसंकट :  मानगो में 50 हजार लोग पानी के लिए तरसे

2 / 2मानगो मून सिटी के पास डिमना रोड में गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा बिछाई जा रही पाइप लाइन के लिए खुदाई से गुरुवार को जलापूर्ति योजना की पाइप फट गई। इससे आधा दर्जन कॉलोनियों में पानी सप्लाई ठप...

PreviousNext

मानगो मून सिटी के पास डिमना रोड में गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा बिछाई जा रही पाइप लाइन के लिए खुदाई से गुरुवार को जलापूर्ति योजना की पाइप फट गई। इससे आधा दर्जन कॉलोनियों में पानी सप्लाई ठप हो गई।पाइप फटने के कारण मानगो के लगभग 50 हजार लोग पानी के लिए तरस गए। इनमें शंकोसाई, सुभाष कॉलोनी, टीचर्स कॉलोनी, डिमना बस्ती, रामनगर, श्यामनगर, हयातनगर, कालिकानगर, नित्यानंद कॉलोनी सहित अन्य मोहल्लों में लोग शामिल हैं। शुक्रवार को टैंकर से दिनभर कॉलोनियों में पानी सप्लाई की गई। पेयजल स्वच्छता विभाग ने उम्मीद जताई गई देर रात तक पाइप की मरम्मत पूरी हो जाएगी। मंत्री सरयू राय की पहल पर प्रशासन ने टैंकर से पानी पहुंचाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए नगर निगम और पेयजल एवं स्वच्छता विभाग को टैंकर से पानी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। शुक्रवार को दिन भर में लगभग 20 टैंकर विभिन्न मोहल्लों में पानी उपलब्ध कराया गया है। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के अभियंता ने रांची से आठ इंच का पाइप मंगवाया हैं। देर रात तक फटे पाइप लाइन की मरम्मत कराई जाएगी और सुबह तक पानी सप्लाई आरंभ करने की कोशिश की जाएगी। मानगो नगर निगम के पास जितने टैंकर उपलब्ध हैं, इसके अलावा जमशेदपुर अक्षेस से टैंकर मांगवाने तथा पर्याप्त संख्या में छोटे-बड़े टैंकर किराये पर लेकर घरों तक पानी आपूर्ति की व्यवस्था की गई। शिड्यूल बनाकर अलग-अलग इलाकों के लिए पानी टैंकरों से पहुंचाने की व्यवस्था की गई। गेल पर लगेगा जुर्माना : गैस अथरिटी ‘ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) पर जुर्माना लगाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने क्षतिपूर्ति का आकलन शुरू कर दिया है। उसे खुदाई की अनुमति मिली है या नहीं। उसने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से पाइप लाइन का नक्शा मांगा या नहीं। सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Water conservation 50 thousand people in Mango for water