DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस बार पोलिंग पार्टी की रवानगी भी को-ऑपरेटिव कॉलेज से ही होगी

लोक सभा चुनाव का संचालन इस बार सिर्फ कोऑपरेटिव कॉलेज से ही होगा। जगह की कमी के कारण पूर्व में पोलिंग पार्टी की रवानगी कोऑपरेटिव कॉलेज, लोयाला और सेक्रेड हार्ट कान्वेंट स्कूल से भी होती थी। मगर इस बार यह काम भी कोऑपरेटिव कॉलेज से ही होगा। इसका कारण उसका नया भवन है। प्रशासनिक भवन के बगल में बनी नई बिल्डिंग की वजह से अब मतदानकर्मियों के लिए जगह की कमी नहीं होगी। वाहन रखने के लिए तो वैसे भी कॉलेज परिसर में जगह पर्याप्त है। चुनावी तैयारियों का जायजा लेने और वहां कौन सा काम कहां करना है यह देखने के लिए शुक्रवार को उपायुक्त अमित कुमार ने एसएसपी अनूप बिरथरे, डीडीसी विश्वनाथ माहेश्वरी और सभी नोडल पदाधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से निरीक्षण किया। इसके पश्चात भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को बैरिकेटिंग एवं बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। उन्हें ईवीएम व वीवीपैट डिस्पैच-रिसिविंग प्वाइंट, पार्किग की जगह चिन्हित कर जरूरी चीजों को उपलब्ध कराने हेतु निदेशित किया गया। उन्होंने छत पर चढ़कर भी मुआयना किया। देखा कि कहां कहां स्ट्रांग रूम बनाया जाएगा और कहां काउंटिंग हॉल बनाना उचित होगा। पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार कॉआपरेटिव कॉलेज परिसर को जिला प्रशासन शनिवार से अपने कब्जे में ले लेगा। पूरे कॉलेज परिसर को अर्द्धसैनिक बल के जवान तैनात कर दिया जाएगा। कॉलेज के जो सामान हैं उन्हें समेटकर कॉलेज परिसर के ही कुछ कमरों में चुनाव तक के लिए बंद कर दिया जाएगा। 23 मई को मतणना भले संपन्न हो जाएगी मगर वहां से सारे सामान हटाने में और एक सप्ताह लगना तय है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: This time the departure of the polling party is also from the college