अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खौफनाक! शिक्षिका का गला काटा फिर घंटों सिर लेकर घूमता रहा सिरफिरा, 4 घंटे पुलिस को छकाने के बाद पकड़ा गया

सिरफिरा शिक्षिका का गला काटा सिर लेकर घूमता रहा, चार घंटे पुलिस को छकाने के बाद पकड़ा गया

झारखंड में सरायकेला के खापरसाई गांव में एक सिरफिरा स्कूल में बच्चों को खेला रही शिक्षका को खींचकर अपने घर के आंगन में ले गया और कटारी से गला काटकर हत्या कर दी।

शिक्षिका की हत्या के बाद कटा सिर और कटारी लेकर सिरफिरा हरि हेम्ब्रम गांव में घूमने लगा। इससे गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची, लेकिन सिरफिरे ने पुलिस को लगभग चार घंटे तक छकाया। वह पुलिस और आम लोगों को कटार और पत्थर लेकर दौड़ाता रहा। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे सरायकेला के प्राथमिक विद्यालय खापरसाई में पदस्थापित 50 वर्षीय सहायक शिक्षिका सुकरू हेस्सा स्कूल परिसर में स्कूल के बच्चों को खेला रही थीं। इसी बीच खापरसाई गांव का ही 40 वर्षीय सिरफिरा हरि हेम्ब्रम तेजी से विद्यालय परिसर आया और शिक्षिका पर हमला कर दिया। इसके बाद हरि हेम्ब्रम शिक्षिका सुकरू हेस्सा को खींचने लगा, जिससे स्कूली बच्चे और रसोईया सब डर रोने-चिल्लाने लगे। जब तक ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिलती, तब तक सिरफिरा हरि शिक्षिका को खींचकर अपने घर के आंगन ले गया और कटारी से गला काट दिया।

धड़ को आंगन में ही छोड़कर सिरफिरा शिक्षिका का सिर और कटार हाथ में लिये गांव में घूमने लगा। इसी दौरान घटना की सूचना मिलने पर ग्रामीणों की भीड़ जमा होने लगी। सभी लोग सिरफिरे को पकड़ने का प्रयास करने लगे, लेकिन वह किसी के हाथ नहीं आया। ग्रामीणों ने शिक्षिका की हत्या की सूचना पुलिस को दी। सूचना के बाद दलबल के साथ पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और सिरफिरे को पकड़ने का प्रयास करने लगी। इस दौरान सिरफिरा पुलिस व ग्रामीणों की भीड़ को देख शिक्षिका का सिर और कटारी लेकर इधर-उधर भागने लगा।

सिरफिरा पुलिस को छकाते हुए सरायकेला के कीता काली मंदिर पहुंच गया और चबूतरे पर बैठकर अजीबोगरीब हरकत करने लगा। पुलिस और ग्रामीणों को करीब आता देखकर कभी पत्थर लेकर लोगों पर हमला करता तो कभी कटारी लेकर भीड़ की तरफ दौड़ पड़ता। आधे घंटे तक काली मंदिर परिसर में हरकत करने के बाद खेतों की और दौड़कर भाग गया। आखिरकार चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने सिरफिरे हरि हेम्ब्रम को गिरफ्तार किया। इसके बाद शिक्षिका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

वर्ष 2016 से खापरसाई में प्रदस्थापित थी शिक्षिका : खूंटी जिले के मरागंगदा थाना क्षेत्र के जानुमपिडी गांव की 50 वर्षीय महिला सुकरू हेस्सा वर्ष 2016 में सहायक शिक्षिका के रूप में प्राथमिक विद्यालय खापरसाई में पदस्थापित हुई थीं। वे स्कूल परिसर के बगल में ही भाड़े के मकान में रहकर बच्चों को शिक्षा प्रदान कर रही थीं।

कटारी से की हत्या-रसोईया : स्कूल की रसोईया चांदू हेम्ब्रम व सोमवारी कुई ने कहा कि सिरफिरा हरि हेम्ब्रम स्कूल की सहायक शिक्षिका सुकरू हस्सा को स्कूल खींचकर अपने आंगन में ले गया और कटारी से उसकी हत्या कर दी। दोनों ने कहा कि पहले भी सिरफिरा युवक अपनी मां मेचो हेम्ब्रम व उसकी बहन पर हमला कर चुका है।

सुरक्षा की मांग पर सड़क जाम : सरायकेला के शिक्षकों ने सहायक शिक्षिका की हत्या के विरोध एवं शिक्षकों को सुरक्षा देने की मांग पर सरायकेला-खरसावां मुख्य को जाम कर दिया। शिक्षकके खापरसाई गांव में दोपहर दो बजे से सड़क पर बैठ गए। सड़क जाम होने के कारण मार्ग पर आवागम बाधित रहा। शिक्षकों ने कहा कि हत्या के बाद से तीन से चार घंटे तक शिक्षिका का धड़ व सिर अलग-अलग पड़ा रहा है। पुलिस का नहीं पहुंचना और लाश का पड़े रहना अपमान है। समाचार लिखे जाने तक सड़क जाम थी।

हत्यारे को गिरफ्तार कर जेल भेजें-बारला : सरायकेला प्राथमिक विद्यालय खापरसाई की प्रबंध समिति एवं माता समिति की अध्यक्ष डुबी बारला ने कहा कि सिरफिरे का खुलेआम घूमना स्कूली बच्चों व शिक्षिकों के लिए खतरा है। उसे गिरफ्तार जेल भेजे जाने तक स्कूल बंद रखा जायेगा। इससे पहले भी उसने गांव के कई लोगों पर हमला किया है। सुरक्षा के दुष्टिकोण से गांव के लिए वह युवक खतरा है।

पुलिस मान रही विक्षिप्त : सरायकेला पुलिस हरि हेम्ब्रम को विक्षिप्त मान कर कारवाई कर रही है। इस मामले में एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने कहा कि शिक्षिका की हत्या के मामले में हरि हेम्ब्रम को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The madrice threw the stranglehold of the teacher, walking around with the head