DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › जमशेदपुर › सहकारी बैंक के प्रतिनिधियों के चुनाव की जांच होगी
जमशेदपुर

सहकारी बैंक के प्रतिनिधियों के चुनाव की जांच होगी

हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 05:31 PM
सहकारी बैंक के प्रतिनिधियों के चुनाव की जांच होगी

झारखंड राज्य सहकारी बैंक लि. रांची के निदेशक पर्षद के गठन के लिए संबद्ध लैम्पस से जुड़े प्रतिनिधियों का 15 सितंबर को हुआ चुनाव विवादों में आ गया है। उपायुक्त ने इस चुनाव की जांच कराने का आश्वासन सांसद विद्युत वरण महतो को दिया है। सांसद भाजपा के ग्रामीण जिलाध्यक्ष और इस कथित चुनावी धांधली के शिकार चंडी चरण साव की शिकायत पर उनके साथ उपायुक्त से मिले। उन्हें चुनाव से जुड़े सारे कागजात सौंपे गए और चुनाव परिणाम आ जाने के बावजूद धोखे से दूसरे को जीत का प्रमाणपत्र देने के सबूत सौंपे।

इस मामले में चंडीचरण साव का आरोप है कि 15 सितंबर को जमशेदपुर अंचल कार्यालय में चुनाव हुआ था। चुनाव में वे जीते थे। इसकी खबर भी अगले दिन के समाचार पत्र में छपी थी। और उनकी जीत की बात सहकारिता पदाधिकारियों के द्वारा ही मीडिया को बताई गई थी। परंतु उस दिन कहा गया कि प्रमाणपत्र उपलब्ध नहीं है, बाद में दिया जाएगा। परंतु अचानक 24 सितंबर को 23 सितंबर की तिथि में जीतने वाले प्रतिनिधियों की जो सूची जारी की गई, उसमें उनका व एक अन्य प्रतिनिधि का नाम गायब हो गया। उन्होंने कहा है कि अगर उपायुक्त ने इस मामले में इंसाफ नहीं किया, तो वे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे, क्योंकि इस नाइंसाफी के कई सबूत उनके पास हैं।

संबंधित खबरें