ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड जमशेदपुरटाटा मोटर्स में वीआरएस स्कीम का टेल्को वर्कर्स यूनियन ने किया विरोध

टाटा मोटर्स में वीआरएस स्कीम का टेल्को वर्कर्स यूनियन ने किया विरोध

टाटा मोटर्स में वीआरएस स्कीम का टेल्को वर्कर्स यूनियन के नेता विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि स्थायीकरण को लेकर मुंबई हाईकोर्ट के फैसले को...

टाटा मोटर्स में वीआरएस स्कीम का टेल्को वर्कर्स यूनियन ने किया विरोध
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरSat, 11 Nov 2023 01:15 AM
ऐप पर पढ़ें

टाटा मोटर्स में वीआरएस स्कीम का टेल्को वर्कर्स यूनियन के नेता विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि स्थायीकरण को लेकर मुंबई हाईकोर्ट के फैसले को जमशेदपुर के टाटा मोटर्स प्लांट में लागू करने का जो दबाव है। इसी का नतीजा है कि कंपनी वीआरएस स्कीम लाई है।
कंपनी चाहती है कि 1500 पुराने कर्मियों को बाहर कर दिया जाए, क्योंकि इनकी सैलरी अधिक है। नए कर्मियों को स्थायी कर दिया जाए। यूनियन उपाध्यक्ष आकाश दुबे और सदस्य हर्षवर्धन का कहना है कि यूनियन के नेता आंख बंद कर कंपनी का समर्थन कर रहे हैं। टाटा मोटर्स रोजगार कम करने की बात कर रही है। कर्मचारियों को निकाला जा रहा है। यूनियन के जो नेता 50 वर्ष से ऊपर के हो चुके हैं, उन्हें वीआरएस लेकर दिखाना चाहिए कि स्कीम फायदेमंद है। यही नहीं, टाटा मोटर्स प्रबंधन के 50 वर्ष से ऊपर की उम्र के अधिकारियों को भी वीआरएस लेना चाहिए। इन दिनों कंपनी में अच्छा उत्पादन हो रहा है। कंपनी घाटे से उबर चुकी है। कंपनी के पास वर्क ऑर्डर भी इतना है कि मजदूरों को रात 1 बजे तक रोक कर काम कराया जा रहा है। फिर, कंपनी वीआरएस स्कीम क्यों लाई है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें