tata Zoo begins to rescue floods before rain. - टाटा जू में बरसात से पहले बाढ़ से बचाव के उपाय शुरू DA Image
21 नबम्बर, 2019|9:52|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाटा जू में बरसात से पहले बाढ़ से बचाव के उपाय शुरू

टाटा जू में बरसात से पहले बाढ़ से बचाव के उपाय शुरू

टाटा जू में बारिश से ठीक पहले जानवरों को बरसात से बचाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। सभी पशु-पक्षियों को अलग-अलग तरीके से बारिश से बचाने की व्यवस्था हो रही है। साथ ही बाड़े के भीतर बने छोटे पिंजरों में रोशनी की व्यवस्था की जा रही है, क्योंकि पूरे बरसात के दौरान जानवरों को छोटे पिंजरे में ज्यादा समय तक रहना पड़ता है।इसके अलावा जू से होकर बहने वाले सरोवर के पानी की निकासी के लिए बने नाले की सफाई की जा रही है। स्वर्णरेखा नदी का जलस्तर बढ़ने से जू में बाढ़ का पानी जाता है।

24 घंटे कर्मचारी रखेंगे नजर : टाटा जू के डायरेक्टर डॉ. विपुल चक्रवर्ती के अनुसार, जू में बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए उपाय किए जा रहे हैं। ताकि पशु-पक्षियों को दिक्कत न हो। बरसात के लिए क्यूरेटर एसके महतो की देखरेख में टीम बनाई गई है, जो 24 घंटे नजर रखेगी।जंगल व घास की कटाई भी शुरू : बारिश में पेड़ न गिरें, इसके लिए सभी कमजोर पेड़ों की कटाई के साथ घास की भी कटाई भी की जा रही है। तेंदुए के बाड़े में बाढ़ का ज्यादा खतरा : टाटा जू के निचले इलाकों के बाड़ों में बरसात के दौरान खास ध्यान रखा जाता है। तेंदुए के बाड़े में बाढ़ का ज्यादा खतरा होने के कारण उसे बाड़े की दूसरी मंजिल के मचान पर शिफ्ट कर दिया जाता है। उसके खाने-पीने की भी व्यवस्था वहीं रहती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:tata Zoo begins to rescue floods before rain.