Tata Workers union dispute after 23 - टाटा वर्कर्स यूनियन विवाद की जांच 23 मई के बाद होगी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाटा वर्कर्स यूनियन विवाद की जांच 23 मई के बाद होगी

टाटा वर्कर्स यूनियन विवाद की जांच बिष्टूपुर पुलिस 23 मई के बाद करेगी। पुलिस अधिकारियों की टीम घटनास्थल का मुआयना करेगी। बिष्टूपुर थाना प्रभारी राजेश प्रकाश सिन्हा के निर्देश पर थाने में 20 मई को प्राथमिकी दर्ज होने की पुष्टि की गयी थी। दर्ज प्राथमिकी के आलोक में पुलिस जांच करने वाली है। दावा किया जा रहा है कि थाना पहुंचे यूनियन के शीर्ष पदाधिकारियों को पुलिस ने कार्यालय में लगे सीसीटीवी फुटेज हर हाल में सुरक्षित रखने को कहा है। टाटा स्टील के सस्पेंड कर्मचारी चंद्रभूषण पांडेय की शिकायत पर बिष्टूपुर थाने में टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष आर रवि प्रसाद, डिप्टी प्रेसिडेंट अरविंद पांडेय, एलडी वन के कमेटी मो. शफीक, निजी सुरक्षा गार्ड सहित अन्य तीन से चार लोगों के खिलाफ बिष्टूपुर थाने में एफआइआर दर्ज है। एफआईआर की कॉपी अब तक शिकायतकर्ता को नहीं मिली है। बुधवार को मामले के शिकायतकर्ता चंद्रभूषण पांडेय ने कहा कि पिता अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। इसलिए वह कानूनी पहलुओं की तरफ ज्यादा ध्यान नहीं दे पा रहे हैं। उसने कहा कि उन्हें पुलिस पर पूरा भरोसा है। एसएसपी ने कहा कि निष्पक्ष जांच होगी। इसलिए निगाहें जांच की प्रक्रिया पर लगी हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Tata Workers union dispute after 23