Tata to Seeni training center will get solar electricity - टाटा से सीनी ट्रेनिंग सेंटर जाएगी सोलर बिजली DA Image
19 नबम्बर, 2019|12:19|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाटा से सीनी ट्रेनिंग सेंटर जाएगी सोलर बिजली

default image

टाटानगर स्टेशन के सोलर प्लांट से सीनी वर्कशॉप सह ट्रेनिंग सेंटर में बिजली भेजी जाएगी। चक्रधरपुर मंडल रेलवे में बिजली की खपत कम करने के लिए यह योजना बनी है। अभी सोलर बिजली ट्रांसफर सिस्टम को अपडेट करने का काम शुरू है। दरअसल, टाटानगर स्टेशन पर चक्रधरपुर मंडल ने तीन सौ किलोवाट का सोलर प्लांट लगाया है। इससे स्टेशन के कार्यालय दिन में सोलर बिजली से रोशन होता है। लेकिन, ऊर्जा संरक्षण का उपाय न करने से रात में दिक्कत होने के साथ सोलर बिजली बर्बाद होती है। इसी कारण टाटानगर स्टेशन के सोलर प्लांट से सीनी वर्कशॉप सह ट्रेनिंग सेंटर में बिजली भेजने की तैयारी चल रही है, ताकि उपलब्ध सुविधा का पूरा लाभ उठाया जा सके। हालांकि, चक्रधरपुर मंडल बिजली की खपत कम करने का सर्वे करा रहा है।

कार्यलयों में लगेगा सोलर प्लांट : रेलवे में कार्यालयों की छत और खाली जमीन पर भी सोलर प्लांट लगाने की योजना है। टाटानगर रेलवे के अभियंता ने बताया कि कार्यालय में बिजली खपत के अनुरूप पांच किलोवाट का सोलर प्लांट लगवाकर 40 प्रतिशत तक बिजली की खपत कम की जा सकती है।

जेएसईबी को देकर ले सकेंगे बिजली: सोलर बिजली मुद्दे पर झारखंड राज्य बिजली वितरण निगम में प्रावधान है कि कोई भी दिन में विभाग को बिजली देकर रात में ले सकता है। जेयूबीएनएल का प्रावधान कंपनियों के साथ घरेलू इस्तेमाल के लिए सोलर बिजली प्लांट लगाने वालों पर लागू होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tata to Seeni training center will get solar electricity