DA Image
1 जुलाई, 2020|5:51|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन के कारण प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का लक्ष्य घटा

default image

लॉकडाउन से प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) का लक्ष्य घट गया है। बीते वर्ष की अपेक्षा इस बार करीब 45 फीसदी की कमी आई है। वर्ष 2019 में 135 की तुलना में इस वर्ष लक्ष्य 76 हो गया है, जिसमें कोराना संकट काल का प्रभाव स्पष्ट परिलक्षित होता है। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक शंभु शरण बैठा ने बताया कि वर्ष 2020 में कोल्हान में पीएमईजीपी योजना का लक्ष्य 228 है। उद्योग मंत्रालय केंद्र सरकार के निर्धारित लक्ष्य के आलोक में राज्य का लक्ष्य अलग निर्धारत होता है। कोल्हान के तीनों जिलों पश्चिम सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां और पूर्वी सिंहभूम का समान रूप से 76-76 लक्ष्य है। पीएमईजीपी के तहत ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। लाभार्थियों की पात्रता जांच के बाद आवेदन बैंकों में भेजा जा रहा है। शहरी और ग्रामीण युवाओं को ऋण मुहैया होगा। जिला उद्योग केंद्र के जरिए विनिर्माण-उद्योग क्षेत्र के लिए 25 लाख और सेवा क्षेत्र के उद्यम के लिए 10 लाख रुपये तक ऋण का प्रावधान है। सौ से अधिक व्यापार में पांच निशिद्ध है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Target of Prime Minister 39 s employment generation program reduced due to lockdown