अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हावड़ा-मुंबई और ओडिशा-दिल्ली रेलमार्ग पर बढ़ेगी ट्रेनों की स्पीड

सीआरएस की रिपोर्ट पर बढ़ेगी ट्रेनों की स्पीड

हावड़ा-मुंबई और ओडिशा-दिल्ली रेलमार्ग (खड़गपुर, टाटानगर, राउरकेला, चांडिल व मुरी) पर यात्री ट्रेनों की स्पीड दक्षिण-पूर्व जोन के मुख्य संरक्षा अधिकारी की रिपोर्ट पर बढ़ेगी।

ट्रेनों को 130 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलाने का तीन दिन ट्रायल हुआ। रेल लाइन की क्षमता जांचने के लिए ट्रैक रिकार्डिंग स्पेशल (सीआरएस) ट्रेन चक्रधरपुर और खड़गपुर मंडल की अप-डाउन लाइन पर दौड़ चुकी है। हावड़ा से टाटानगर-झारसुगोड़ा तक संरक्षा अधिकारियों की टीम ट्रैक रिकार्डिंग ट्रेन पर मौजूद थी। हावड़ा-मुंबई मार्ग पर यात्री ट्रेनें अभी 110 किमी तक प्रतिघंटे की स्पीड से चलती हैं। इसे 130 किमी प्रति घंटे करने का लक्ष्य है। तीन दिवसीय ट्रायल में ट्रैक रिकार्डिंग स्पेशल ट्रेन को स्पीड से नई लाइन पर दौड़ाया गया, जो सफल रहा। जोन के मुख्य संरक्षा अधिकारी द्वारा सिर्फ गार्डेनरीच में रिपोर्ट सौंपने का इंतजार है। इसके बाद दक्षिण-पूर्व जोन में ट्रेनों की स्पीड बढ़ने का दावा परिचालन और इंजीनियरिंग रेल अधिकारियों ने किया है। दरअसल, रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने पर जोन से रिपोर्ट मांगी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Speed of trains will increase on CRS report