DA Image
31 अक्तूबर, 2020|7:08|IST

अगली स्टोरी

कृषि बिल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एसडीओ और विधायक में बहस

कृषि बिल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एसडीओ और विधायक में बहस

1 / 3केंद्र सरकार के कृषि विधेयक और नए श्रम कानून-2020 के विरोध में बुधवार को झामुमो ने जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन किया। समाहरणालय गेट के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होते देख धालभूम के एसडीओ...

कृषि बिल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एसडीओ और विधायक में बहस

2 / 3केंद्र सरकार के कृषि विधेयक और नए श्रम कानून-2020 के विरोध में बुधवार को झामुमो ने जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन किया। समाहरणालय गेट के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होते देख धालभूम के एसडीओ...

कृषि बिल के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एसडीओ और विधायक में बहस

3 / 3केंद्र सरकार के कृषि विधेयक और नए श्रम कानून-2020 के विरोध में बुधवार को झामुमो ने जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन किया। समाहरणालय गेट के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होते देख धालभूम के एसडीओ...

PreviousNext

केंद्र सरकार के कृषि विधेयक और नए श्रम कानून-2020 के विरोध में बुधवार को झामुमो ने जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन किया। समाहरणालय गेट के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होते देख धालभूम के एसडीओ नीतीश कुमार सिंह तैश में आ गए। झामुमो कार्यकर्ताओं को हटने को कहा तो वहां मौजूद विधायक रामदास सोरेन से तू तू मैं मैं हो गई।सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं, कार्रवाई होगी : दोपहर 12 बजे उपायुक्त कायार्लय के बाहर एकत्रित करीब डेढ़ सौ झामुमो कार्यकर्ताओं की भीड़ देखकर एसडीओ वहां पहुंचे। विधायक रामदास सोरेन की अगुवाई में विधायक मंगल कालिंदी, पार्टी के नेता और कार्यकर्ता उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने आए थे। एसडीओ ने रामदास सोरेन से कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करें, नहीं तो कार्रवाई करेंगे। प्रतिकार में विधायक रामदास सोरेन ने कहा कि हम जेल जाने से डरते नहीं हैं। एसडीओ और विधायक में तू-तू मैं-मैं देखकर पार्टी के नेता और कार्यकर्ता भौंचक रह गए। एसडीओ के आदेश से पुलिस ने भीड़ को वहां से हटा दिया।

पौन घंटे तक विधायकों की डीसी से वार्ता :माहौल गर्माने के बाद घाटशिला के विधायक रामदास सोरेन, जुगसलाई के विधायक मंगल कालिंदी, पूर्व सांसद सुमन महतो, शेख बदरुद्दीन, प्रमोद लाल, मनोज यादव एवं सुनील महतो उपायुक्त से मिले। राष्ट्रपति के नाम केंद्र सरकार के काले कानून (कृषि विधेयक और श्रम कानून) को निरस्त करने संबंधी ज्ञापन सौंपा। रामदास सोरेन ने उपायुक्त से कहा कि हम कार्यकर्ताओं को खुद संभाल लेंगे। हम नियम नहीं तोड़ेंगे। डीसी से मिलकर प्रतिनिधिमंडल के बाहर आने पर कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:SDO and MLA debate during protest against agricultural bill