ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड जमशेदपुरचांडिल डैम के पास बनेगा रेस्ट हाउस, अब रात में ठहर सकेंगे पर्यटक

चांडिल डैम के पास बनेगा रेस्ट हाउस, अब रात में ठहर सकेंगे पर्यटक

जंगलों और पहाड़ियों से घिरे चांडिल डैम में अब पर्यटक रात में भी ठहर सकेंगे। जल संसाधन विभाग चांडिल डैम से चार सौ मीटर दूर थ्री स्टॉर सुविधायुक्त...

चांडिल डैम के पास बनेगा रेस्ट हाउस, अब रात में ठहर सकेंगे पर्यटक
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरThu, 15 Feb 2024 05:45 PM
ऐप पर पढ़ें

जंगलों और पहाड़ियों से घिरे चांडिल डैम में अब पर्यटक रात में भी ठहर सकेंगे। जल संसाधन विभाग चांडिल डैम से चार सौ मीटर दूर थ्री स्टॉर सुविधायुक्त रेस्ट हाउस बनवा रहा है। रेस्ट हाउस का संचालन पीपीपी मोड पर होगा।
दूसरी ओर, स्वर्णरेखा परियोजना की ओर से चांडिल हाइवे पर मुखिया होटल से डैम तक हाईमास्ट लाइट लगावाई जा रही है। इसमें साढ़े 57 लाख से ज्यादा खर्च होंगे, ताकि पर्यटक अंधेरा होने पर भी हाइवे व डैम के बीच आवागमन कर सकें। डैम के आसपास अभी ठहरने व रोशनी की व्यवस्था नहीं होने से दूसरे राज्य के पर्यटक अंधेरा होने से पहले जमशेदपुर लौट जाते हैं, लेकिन रेस्ट हाउस और रोशनी की सुविधा मिलने पर लोग चांदनी रात में डैम का आनंद उठा सकेंगे।

पर्यटन के इच्छुक लोगों में जमशेदपुर से 20 किलोमीटर दूर चांडिल डैम आकर्षण का केंद्र है। डैम के आसपास वन्यजीव अभ्यारण्य, प्राचिन मंदिर व अन्य एतीहासिक स्थल हैं, जहां पूरे वर्ष झारखंड के विभिन्न जिले समेत ओडिशा एवं पश्चिम बंगाल के सैलानियों की भीड़ लगती है। हालांकि, ठहरने की सुविधा नहीं मिलने से पर्यटक परेशान होते हैं। इससे स्वर्णरेखा परियोजना ने अधिकारियों के इंस्पेक्शन बंगला को रेस्ट हाउस में तब्दील करने व हाईमास्ट लाइट लगाने का टेंडर निकाला है, ताकि पर्यटन को बढ़ावा मिले। अभी चांडिल डैम में पर्यटको को बोटिंग की सुविधा मिलती है, जबकि पर्यटन विभाग चांडिल डैम में फिशिंग, क्लिप जंपिंग, पैडल बोटिंग और ड्रैगन वोट जैसी सुविधा शुरू करने की तैयारी में है। चांडिल डैम में वाटर स्पोर्ट्स का भी आयोजन हुआ था, जो पर्यटको को आकर्षित करता है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें