ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड जमशेदपुरटाटानगर व आदित्यपुर में जल्द नया आरआरआई शुरू करेगा रेलवे

टाटानगर व आदित्यपुर में जल्द नया आरआरआई शुरू करेगा रेलवे

सुरक्षित व समयबद्ध परिचालन के लिए थर्ड लाइन को लेकर टाटानगर और आदित्यपुर में तैयार नए आरआरआई (रूट रिले इंटरलॉकिंग) से ट्रेनों की मॉनिटरिंग जल्द शुरू...

टाटानगर व आदित्यपुर में जल्द नया आरआरआई शुरू करेगा रेलवे
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरThu, 15 Feb 2024 05:45 PM
ऐप पर पढ़ें

सुरक्षित व समयबद्ध परिचालन के लिए थर्ड लाइन को लेकर टाटानगर और आदित्यपुर में तैयार नए आरआरआई (रूट रिले इंटरलॉकिंग) से ट्रेनों की मॉनिटरिंग जल्द शुरू होगी। दक्षिण पूर्व जोन के रेल जीएम एके मिश्रा ने यह आदेश दिया है। इससे चक्रधरपुर मंडल परिचालन विभाग टाटानगर व आदित्यपुर के नए आरआरआई में अत्याधुनिक यंत्र लगाने में जुटा है। दोनों आरआरआई को शुरू करने से पूर्व रेलवे को लाइन में सिग्नल, प्वाइंट व शंटिंग सिस्टम लगाने होंगे, जबकि डायमंड समेत अन्य तरह के प्वाइंट की स्थिति में बदलाव करना आवश्यक है।
दूसरी ओर, आरआरआई ड्यूटी रेलकर्मियों पर नजर रखने के लिए कक्ष में सीसीटीवी कैमरा लगाने की योजना है। जानकार बताते हैं कि आदित्यपुर से टाटानगर व सलगाझूरी वेस्ट केबिन तक थर्ड लाइन तैयार होने तक दोनों आरआरआई को परिचालन योग्य बनवाने का लक्ष्य दक्षिण पूर्व जोन ने दिया है। इससे आदित्यपुर व सलगाझुरी में एक लाइन भी बढ़ने की उम्मीद है। इससे ट्रेनों को खड़ी करने और बादामपहाड़ मार्ग की ट्रेनों को स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर लाने में सहूलियत होगी। हालांकि, टाटानगर से खड़गपुर तक ऑटोमेटिक सिग्नल व पैनल बैठाने की योजना पर पूर्व से काम शुरू है।

बादामपहाड़ में लाइन मरम्मत की योजना

चक्रधरपुर मंडल में टाटानगर से बादामपहाड़ तक तीन चरणों में लाइन मरम्मत की योजना है। इससे आंवलाजुड़ी, गुरूमहिसानी एवं बादामपहाड़ की ब्रांच लाइनों में काम होगा, जिसमें एक करोड़ 30 लाख रुपये खर्च होने की उम्मीद है। अभी रेलवे के परिचालन, इंजीनियरिंग, सिग्नल और ट्रैक्शन विभाग लाइन मरम्मत कार्य के सर्वे में जुटा है। लाइन मरम्मत के दौरान टाटा बादामपहाड़ के बीच तीन जोड़ी मेमू ट्रेन समेत दर्जनभर मालगाड़ियों का परिचालन अप-डाउन में प्रभावित होने की उम्मीद है।

लाइन और स्लीपर बदलने की तैयारी

दक्षिण पूर्व रेलवे जोन सुरक्षित ट्रेन परिचालन के लिए टाटानगर से नीमपुरा व कांड्रा से चांडिल के बीच लाइन व स्लीपर बदलने की तैयारी में है। इसमें साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा रकम खर्च हो सकते हैं। रेलवे ने टेंडर निकाल दिया है। मार्च से दोनों सेक्शन की लाइन व स्लीपर समेत ब्लास्ट बदलने का काम शुरू हो सकता है। रेलवे को ब्रांच एवं मेन लाइन में ट्रेनों की स्पीड 130 किमी करने में सहूलियत होगी, क्योंकि रेलवे बोर्ड से हर लाइन पर ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने का आदेश हुआ है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें