DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नदियों का संरक्षण बेहद जरूरी : अमित कुमार

नदियों का संरक्षण बेहद जरूरी : अमित कुमार

नदियों का संरक्षण वक्त की जरूरत है। जनसमुदाय की भागीदारी व संकल्प से ही नदियों को बचाने का कार्य पूरा होगा। अब जल संरक्षण की उपेक्षा का समय नहीं है। केपटाउन शहर आज इसका उदाहरण है, यह कहना है उपायुक्त अमित कुमार का।

जैमपॉट ग्रीन्स और नरभेराम हंसराज स्कूल के संयुक्त तत्वावधान में गुरुवार को आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त अमित कुमार ने कहा कि छोटे-छोटे बच्चे हमारे अभियान के ब्रांड अम्बेसडर्स हैं। तरंगिणी अभियान के माध्यम से विभिन्न विद्यालयों के बच्चों को जल संरक्षण की मुहिम से जोड़ने का भागीरथ प्रयास बेहद महत्वपूर्ण है।

21 मॉडल हुए प्रस्तुत : कार्यक्रम के दूसरे हिस्से में नदियों को संरक्षित करने हेतु आइडिया प्रतियोगिता में शहर के 21 स्कूलों की टीमों ने पावरपॉइंट के माध्यम से अपने रिसर्च मॉडल्स प्रस्तुत किए। इस दौरान टीमों ने नदियों एवं जल की वर्तमान स्थिति पर चिंता जाहिर की। उन्होंने वर्षा जल संरक्षण, पानी बचाने, नदियों की सफाई में आधुनिक तकनीक का उपयोग, नदी तटबंधों पर पौधरोपण सहित तमाम सुझाव दिए।

दयानंद की टीम बनी विजेता : स्वर्णरेखा, चेनाब, कृष्णा, ताप्ती, गंगा, यमुना, कोशी, झेलम सहित देश की कई प्रमुख नदियों का प्रतिनिधित्व करती शहर के विभिन्न स्कूलों की टीमों ने बारी-बारी से अपने आइडियाज विस्तार से प्रस्तुत किए। दयानंद पब्लिक स्कूल की टीम भागीरथी को पहला स्थान मिला। एडीएलएस सनसाइन स्कूल की ब्रह्मापुत्र टीम को दूसरा स्थान मिला। विजेताओं को डीएसपी सुधीर कुमार एवं नरभेराम हंसराज की प्राचार्या पारोमिता रॉय चौधरी ने सम्मानित किया। मौके पर नकुल कमानी, पूर्वी घोष, स्वर्णा मिश्रा, झुमझूमी नंदी, सुभाष बनर्जी, प्रेमा, सुमिता एवं कई विद्यालयों से शिक्षक-शिक्षिकाएं उपस्थित थीं। कार्यक्रम में 300 से ज्यादा बच्चों ने शिरकत किया। मौके पर कल्पवृक्ष फाउंडेशन के निदेशक अरुण सिंह, तारक नाथ दास, विधान रॉय, सुब्रता लायक, मौमिता और तरुण कुमार मुख्य रूप से मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Protection of rivers is very important: Amit Kumar