DA Image
15 अगस्त, 2020|4:09|IST

अगली स्टोरी

प्रकाश के परिजनों का आरोप, हत्यारोपियों को सरयू व अर्जुन मुंडा का संरक्षण

प्रकाश के परिजनों का आरोप, हत्यारोपियों को सरयू व अर्जुन मुंडा का संरक्षण

अधिवक्ता प्रकाश कुमार यादव के भाई अधिवक्ता दिनेश कुमार का आरोप है कि प्रकाश की हत्या अमूल्यो कर्मकार, राजकिशोर मुखी व अन्य ने करायी है। अमूल्यो ने उसके भाई को कुछ दिन पहले कहा था कि नौ लाख रुपये ले लो और अपनी जान बचा लो। लेकिन उसके भाई ने उसके साथ सौदा नहीं किया। उसने जवाब दिया था कि नौ लाख रुपये के लिए वह किसी गरीब का हक जाने नहीं देगा। 10 साल से राजनीतिक संरक्षण: बकौल दिनेश कुमार, अमूल्यो कर्मकार राजनीतिक पहुंच वाला है। उसे स्थानीय विधायक सरयू राय और केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा का संरक्षण प्राप्त है। जिसके चलते पिछले 10 वर्षों से बिरसानगर इलाके में अवैध जमीन का कारोबार कर रहा है। फिर भी उसपर कोई कार्रवाई नहीं होती है। केयर टेकर तांती पर धोखे का आरोप : जमीन खरीदने के बाद शंकर तांती को उस जमीन का केयर टेकर बना दिया। इसके बाद 2014 में उसी जमीन का राजकिशोर मुखी ने कागज बनाकर बताया कि राजकिशोर मुखी ने यह जमीन लक्ष्मण सोरेन के बेटे विष्णु सोरेन से 25 लाख रुपये में ली है। इस कागज में शंकर तांती को गवाह बनाया। विष्णु सोरेन की मौत 2018 में हो गयी है। विवादित जमीन के नोटिस का जवाब आया था : उन लोगों ने केयर टेकर शंकर तांती को नोटिस किया था जिसका जवाब मंगलवार को उन्हें मिला था। उसी केस के जवाब पर क्या कार्रवाई करनी है? उसपर विचार-विमर्श के लिए नीता प्रसाद अपने पति के साथ उनके घर आयी थी और इसकी जानकारी अमूल्यो, राजकिशोर मुखी व अन्य लोगों को मिल गयी थी। परिवार पर जान का खतरा बताया: नीता प्रसाद पर दबाव बनाया जा रहा था कि वह 20 लाख रुपये देकर जमीन ले ले। इस संबंध में उन दोनों अधिवक्ता भाइयों ने 14 जुलाई 2020 को कोर्ट में एक इनफॉर्मेटरी पिटीशन डाला था। दिनेश ने कहा कि उन्हें अपनी और अपने परिवार की जान का डर है। उनके परिवार के किसी सदस्य की 24 घंटे के अंदर हत्या हो सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Prakash 39 s family members accused Sarayu and Arjun Munda 39 s protection to the killers