ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड जमशेदपुरसाइबर केस में फरार नौ अपराधियों को पकड़ने कोलकाता जाएगी पुलिस

साइबर केस में फरार नौ अपराधियों को पकड़ने कोलकाता जाएगी पुलिस

विदेश में रहने वालों से साइबर ठगी के मामले में फरार नौ आरोपियों को पकड़ने जमशेदपुर पुलिस की टीम कोलकाता...

साइबर केस में फरार नौ अपराधियों को पकड़ने कोलकाता जाएगी पुलिस
default image
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरTue, 25 Jun 2024 02:00 AM
ऐप पर पढ़ें

विदेश में रहने वालों से साइबर ठगी के मामले में फरार नौ आरोपियों को पकड़ने जमशेदपुर पुलिस की टीम कोलकाता जाएगी। सिटी डीएसपी सुधीर कुमार के नेतृत्व में करीब आधा दर्जन पुलिस अधिकारियों की टीम बनी है, ताकि गिरफ्तार आरोपियों से मिली जानकारी के अनुसार छापेमारी कर अन्य को पकड़ा जा सके। वहीं, साइबर ठगी में जेल जाने वालों को पुलिस रिमांड पर लेने वाली है, ताकि गिरोह से जुड़े अन्य साक्ष्य जुटाने में सहूलियत हो। इस दौरान एसएसपी किशोर कौशल भी आरोपियों से पूछताछ करेंगे।
पुलिस के अनुसार, साइबर ठग गिरोह का मुख्य सरगना टेल्को घड़ी पार्क निवासी कंप्यूटर इंजीनियर सौरभ कुमार सिन्हा व साइबर क्राइम के लिए फ्लैट मुहैया कराने के आरोपी रमीज रजा खान अभी फरार हैं। दोनों की तलाश में छापेमारी जारी है। दोनों को जानने वालों पर भी पुलिस की नजर है। इसके अलावा पुलिस ने ठगी के सरगना सौरभ कुमार सिन्हा के सभी बैंक खातों को सोमवार को सील करा दिया। मालूम हो कि साइबर ठगी में पुलिस ने गोलमुरी टुइलाडुंगरी अमरीक सिंह, कोलकाता के दत्ता लेन निवासी विवेक गुप्ता, बगोई पाड़ा निवासी तनुप दास, हावड़ा निवासी गौरव चौधरी, मनीष चौधरी, संदीप कुमार राम व प्रवीण चौधरी को गिरफ्तार किया था। जबकि चिंटू, बासु, आयुष, वंश, शरद, साहिल और संदीप शाह अभी फरार हैं।

मोबाइल लोकेशन खंगाल रही पुलिस

साइबर ठगी में फरार आरोपियों का मोबाइल का लोकेशन खंगाला जा रहा है। पुलिस को फरार आरोपियों का नाम, पता एवं मोबाइल नंबर मौके से गिरफ्तार लोगों से मिला है। पता सत्यापन की प्रक्रिया मोबाइल नंबर व अन्य माध्यम से शुरू है। दूसरी ओर, आरोपियों से बरामद 13 मोबाइल, एक लैपटॉप, 7 लैपटॉप चार्जर, एक स्वाइप मशीन और 13 एटीएम कार्ड समेत अन्य दस्तावेज की बैंक व लैब से जांच कराने की योजना है।

ऐसे हुई गिरफ्तारी

मोबाइल क्लोनिंग द्वारा विदेश में रहने वालों से साइबर ठगी की गुप्त सूचना एसएसपी को मिली थी। जांच में ठग गिरोह का लिंक गोलमुरी का मिला। इससे बिष्टूपुर थाने में सूचना दर्ज कर पुलिस टीम द्वारा संयुक्त रूप से गोलमुरी मुस्लिम बस्ती में रमीज रजा खान के घर छापेमारी की गई, जहां से सात आरोपी पकड़े गए और ठगी का सामान बरामद हुआ। साइबर ठगी का केस गोलमुरी थाना प्रभारी गौरव सिंह के बयान पर दर्ज किया गया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।