DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को ले जाने दिल्ली से आई पुलिस

दिल्ली के मुंडका थाना क्षेत्र में वर्ष 2017 में हुए सामूहिक दुष्कर्म की शिकार पीड़िता की तलाश में पुलिस की टीम गुरुवार को जमशेदपुर पहुंची। दिल्ली पुलिस को पीड़िता तो मिल गई, लेकिन वह दिल्ली जाने को तैयार नहीं है। उसे दिल्ली गवाही के लिए ले जाने के लिए दिल्ली पुलिस को नाको चने चबाने पड़ रहे हैं। पीड़िता की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।

घटना मार्च में हुई थी। उससे मुंडका में सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। एफआईआर दर्ज होने के बाद इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। अब मामला ट्रायल की प्रक्रिया में है। गवाही के लिए पीड़िता को छह बार अदालत से नोटिस जारी किया गया। तीन बार दिल्ली से दारोगा ललिता देवी और मामले की जांचकर्ता खुद जमशेदपुर आईं।

गुरुवार सुबह दोबारा दारोगा ललिता देवी जमशेदपुर आईं। एसएसपी से मिलने के बाद उन्होंने पीड़िता का पता लगाकर उसे दिल्ली पुलिस से मुलाकात करने की जिम्मेदारी मानगो पुलिस को सौंपी। मानगो इंस्पेक्टर अरुण महथा ने उसकी तलाश शुरू की और इसी दौरान पता चला कि वह पुराना कोर्ट में रहती है। वहां पुलिस गई तो पता चला कि वह नए कोर्ट में है। नए कोर्ट के गेट पर वह मिली।

दिल्ली पुलिस से मुलाकात के बाद वह मानगो थाना आ गई। लेकिन मानगो थाना आने के बाद उसने दिल्ली जाने से इनकार कर दिया गया। वह भागे नहीं, इसके लिए थाने का गेट बंद कर दिया गया। देर शाम तक दिल्ली पुलिस की महिला सब इंस्पेक्टर पीड़िता को यह समझाती रही कि उसकी गवाही से आरोपियेां का सजा मिल जाएगी। यह गवाही अदालत के आदेश पर करनी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police from Delhi carrying gangrape victim