ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड जमशेदपुरचुनाव आचार संहिता के दौरान जब्त पिस्तौल की होगी फोरेंसिक जांच

चुनाव आचार संहिता के दौरान जब्त पिस्तौल की होगी फोरेंसिक जांच

चुनाव आचार संहिता के दौरान अपराधियों से जब्त पिस्तौल की फोरेंसिक जांच होगी, ताकि पिस्तौल से गोली चलने व हत्याकांड में प्रयुक्त होने का पता लगाया जा...

चुनाव आचार संहिता के दौरान जब्त पिस्तौल की होगी फोरेंसिक जांच
default image
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरFri, 21 Jun 2024 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

चुनाव आचार संहिता के दौरान अपराधियों से जब्त पिस्तौल की फोरेंसिक जांच होगी, ताकि पिस्तौल से गोली चलने व हत्याकांड में प्रयुक्त होने का पता लगाया जा सके। मालूम हो कि करीब दो महीने तक लागू लोकसभा चुनाव आचार संहिता के दौरान पुलिस ने जमशेदपुर के विभिन्न थाना क्षेत्रों से 51 पिस्तौल एवं दर्जनों की संख्या में गोली बरामद किया था। इस दौरान 64 ऐसे अपराधी भी पकड़े गए थे, जिनके खिलाफ हत्या व फायरिंग के मामले दर्ज हैं।
इससे पुलिस चिह्नित अपराधियों से बरामद पिस्तौल को अदालत के आदेश से फोरेंसिक जांच के लिए लैब भेजेगी। इससे पुलिस को हत्या और फायरिंग के लंबित मामलों के निष्पादन में सहूलियत होगी। इधर, एसएसपी किशोर कौशल ने बताया कि अपराधियों से बरामद सभी पिस्तौल की फोरेसिंक जांच जरूरी नहीं है, क्योंकि कई अपराधियों को योजना बनाने के दौरान विभिन्न जगहों से दबोचा गया था। हालांकि अदालत के आदेश से बरामद पिस्तौल की फोरेंसिक जांच होगी।

पिस्तौल बरामदगी की चंद घटनाएं

जानकारी के अनुसार, कदमा पुलिस ने भोलू कुम्हार की हत्या के आरोपी राहुल व प्रशांत से पिस्तौल बरामद किया था। वहीं, कदमा जनता बस्ती व गांधी बस्ती के हिंसक झड़प में मुकेश धीवर से लोडेड पिस्तौल मिली थी। जुगसलाई गरीब नवाज कॉलोनी में मो. अफजल को गोली मारने वालों से पिस्तौल बरामद हुई थी। इसके अलावा सिदगोड़ा फायरिंग में तीन आरोपियों से पिस्तौल जब्त हुई थी, जबकि कोर्ट परिसर से पिस्तौल समेत अपराधी पकड़ा गया था। आजादनगर रोड नंबर 12 में निर्माणाधीन मकान पर फायरिंग मामले के आरोपी अमन से भी पुलिस को पिस्तौल मिली थी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।