People involved with police got for attachment - परसूडीह में कुर्की करने गई पुलिस से उलझे लोग DA Image
9 दिसंबर, 2019|1:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परसूडीह में कुर्की करने गई पुलिस से उलझे लोग

परसूडीह में सोमवार को भाजपा नेता की हत्या के मामले में कुर्की करने परसूडीह पहुंची पुलिस से स्थानीय लोग उलझ गए। उनका कहना था कि कुर्की से पहले उनके घर पर कोई इश्तेहार नहीं चिपकाया गया। बिना किसी जानकारी के ही पुलिस वाले मकान से सामान उठाने आ गए। पुलिस भाजपा एसटी मोर्चा के मंडल उपाध्यक्ष होपोन हेंब्रम की हत्या के आरोपी दुखु माझी, उनके बेटे करिया माझी और रिंचू माझी के घर की कुर्की करने पहुंची थी। हत्या परसूडीह के कलियाडीह में 11 मई को हुई थी। सोमवार को कुर्की के दौरान काफी देर तक यहां बवाल होता रहा। हालांकि, फोर्स की अधिक संख्या के चलते किसी की सामने आकर पुलिस की कार्रवाई को रोकने की हिम्मत नहीं हुई। देर शाम तक तीनों आरोपियों के एक ही घर की पुलिस ने कुर्की कर ली। दुखु माझी पहले से जेल में है। इसी बात को लेकर परिवार वालों ने विरोध किया कि जो व्यक्ति जेल में बंद है, उसके घर की कुर्की क्यों की जा रही है। करिया माझी की पत्नी सुगी टुडू ने कहा कि पुलिस ने न तो नोटिस दिया और न ही इश्तेहार लगाया गया और कुर्की करने पहुंच गयी। पुलिस का कहना है कि करिया और रिंचू माझी आरोपी फरारी में हैं, इसलिए उनके घर की कुर्की की गई है। पुलिस के अनुसार नोटिस भी दिया गया है। जेल में बंद दुखु माझी के घर कुर्की करने के संबंध में परसूडीह थाना प्रभारी अनिमेष गुप्ता का कहना है कि तीनों आरोपी एक ही परिवार के हैं और एक ही घर में रहते हैं, इसलिए तीनों के घर की कुर्की की गयी है। उन्होंने यह भी कहा कि आरोपी फरारी में हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: People involved with police got for attachment