DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निबंधित कर्मचारी पुत्रों को मिले अन्य सुविधाएं

निबंधित कर्मचारी पुत्रों को मिले अन्य सुविधाएं

टाटा स्टील में जिन कर्मचारी पुत्रों का निबंधन हुआ है, उन्हें अगर कंपनी में नौकरी नहीं मिलती है तो कुछ न कुछ अन्य सुविधाएं जरूर मिलनी चाहिए।

टाटा वर्कर्स यूनियन की ओर से आयोजित विदाई समारोह में सेवानिवृत्त कर्मचारी पीके सिन्हा ने अध्यक्ष आर. रवि प्रसाद के समक्ष यह मामला उठाया। इसका जवाब देते हुए आर. रवि प्रसाद ने कहा कि ट्रेड अपरेंटिस की परीक्षा में कर्मचारी पुत्रों की उम्र सीमा बढ़ाकर 30 वर्ष किया गया है। वहीं, जेट सहित आईएल 5 और 6 में निकलने वाली बहाली में भी निबंधित पुत्रों को मौके दिए जा रहे हैं। वहीं, पीके सिन्हा ने टिस्को इम्प्लाइज पेंशन स्कीम के तहत संबंधित कर्मचारी की मौत पर उनकी पत्नी को एकमुश्त सैटेलमेंट की जगह आजीवन पेंशन स्कीम का लाभ दिए जाने की वकालत की। वहीं, एक पूर्व कर्मचारी ने सेवानिवृत्त के बाद भी क्लब हाउस की सुविधा दिए जाने की मांग की।

टीडब्ल्यूयू ने दी 32 कर्मचारियों को विदाई : टाटा स्टील से 31 मई को 32 कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए। इनके सम्मान में शनिवार शाम टाटा वर्कर्स यूनियन कार्यालय में विदाई समारोह आयोजित हुई। विदाई पाने वालो में एमएसजी मैकेनिकल से पूर्व कमेटी मेंबर महेंद्र सिंह भी शामिल हैं। महेंद्र सिंह गोपाल बाबू के समय से अपने विभाग में कमेटी मेंबर थे। इस वर्ष सेवानिवृत्त होने वाले थे, इस कारण उन्होंने चुनाव नहीं लड़ा। विदाई समारोह में यूनियन अध्यक्ष आर. रवि प्रसाद ने सभी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। वहीं, कंपनी से मिले सैटेलमेंट के पैसे का समुचित इस्तेमाल करने की सलाह दी। समारोह में डिप्टी प्रेसिडेंट अरविंद पांडेय, उपाध्यक्ष हरिशंकर सिंह, सहायक सचिव डीके उपाध्याय, कमलेश सिंह, नितेश राज व कोषाध्यक्ष प्रभात लाल सहित अन्य उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Other facilities available to the respected employee sons