DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओडिशा के कटक से अपहृत बच्ची नहीं मिली, महिला को ले गई पुलिस

ओडिशा के कटक से अपहृत 10 साल की बच्ची को दूसरे दिन भी बरामद करने में सफलता नहीं मिली। आरोपी आशा लोहार ने पुलिस टीम से कहा था कि उसने बच्ची को रायरंगपुर में अपने एक रिश्तेदार को दे दिया है, लेकिन वहां से भी बच्ची नहीं मिली। आशा लोहार वहां पर रिश्तेदार से झगड़ी थी। ओडिशा पुलिस को भी लगा कि गुमराह किया जा रहा है।

हरहरगुट्टू की रहने वाली है आशा : आशा लोहार बागबेड़ा के हरहरगुट्टू राजा तालाब की रहने वाली है। उसके पति का नाम अमित लोहार है। आशा को बागबेड़ा पुलिस ने दो साल पहले बच्चा चोरी करने के आरोप में जेल भेजा था।

कटक मजदूरी करने गए थे दोनों, बच्ची को उठा ले आए थे : आरोपी आशा अपने पति अमित के साथ पिछले माह कटक मजदूरी करने गई थी। वहीं से दोनों बच्ची को लेकर 16 जुलाई को बागबेड़ा पहुंचे थे। 19 को रायरंगपुर में ्ररिश्तेदार के यहां बच्ची को पहुंचाया था। ट्रांजिट रिमांड पर लेकर गयी ओड़िशा पुलिस : ओडिशा पुलिस आशा को कोर्ट में लेकर पहुंची थी। कोर्ट के आदेश पर पांच दिनों के ट्रांजिट रिमांड पर ओडिशा ले गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No kidnapped girl found in Odisha s Cuttack woman taken to police