DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनएच-33 की हालत खराब, याचिका दायर करेंगे : सरयू

खाद्य आपूर्ति मंत्री सरयू राय ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-33) की जर्जर हालत को लेकर लोगों मे सरकार के प्रति आक्रोश है। एनएच निर्माण को लेकर झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है। इसमें रुकावट न आए, इसलिए कोर्ट में जनता की ओर से याचिका दायर करेंगे। वे रविवार को एनएच के निरीक्षण के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार को कोर्ट में याचिका दायर करना चाहिए था। 9 अगस्त को कोर्ट में सुनवाई होनी है, इससे पहले वे वकील से बात करेंगे, ताकि निर्माण कार्य को लेकर कोर्ट में बात रखी जा सके। राय ने पारडीह से बालीगुमा तक लगभग चार किमी तक एनएच की मरम्मत के लिए विधायक निधि से एक करोड़ रुपये उपायुक्त को निर्गत करने का आदेश दिया है, जिस राशि से पथ निर्माण विभाग एनएच की मरम्मत करेगा।

बारिश का पानी बहता रहता है सड़क पर : राय ने कहा कि लंबे समय से एनएच के किनारे नाली बनाने की मांग की जा रही है, जो आज तक नहीं बन पाई। उन्होंने कहा कि नाली नहीं बनने से बारिश की पानी सड़क के जरिये बहता रहता है। सड़क ही नाली बन गई है। सड़क पर गड्ढे बढ़ गए हैं। जलभराव के चलते गड्ढों की गहराई का पता नहीं चल पाता है। जर्जर स्थिति के चलते भाजपा कार्यकर्ता भी हादसे में घायल हो गये हैं।

कल्पना से ज्यादा भयावह : राय ने कहा कि एनएच की स्थिति अत्यंत ही भयावह हो गई है। मीडिया से सूचना मिलने के बाद स्थिति का जायजा लेने पर पता चला कि कल्पना से अधिक खतरनाक है। जर्जर स्थिति के कारण पुलिस पेट्रोलिंग भी नहीं हो पाती है।

मानगो अक्षेस को नाली बनाने के निर्देश : मंत्री ने एनएच किनारे अभिलाषा अपार्टमेंट के सामने मानगो अक्षेस को नाली बनाने के निर्देश दिए, ताकि बारिश की पानी एनएच पर न बहे और अपार्टमेंट के सामने जलभराव न हो। निरीक्षण के दौरान मंत्री सरयू राय के साथ भाजपा नेता विकास सिंह, प्रवीण सिंह, संध्या नंदी, रवींद्र सिंह सहित अन्य लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:NH-33 condition will be bad, petition will be filed: Saryu