DA Image
19 जनवरी, 2020|10:55|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़े हुए शव ढोने से एमजीएम के तीन एंबुलेंस चालक बीमार

एक तो एमजीएम की इमरजेंसी गत पांच दिनों से खराब है, ऊपर से इसमें 24 अगस्त से ही शव ठूंसे हुए हैं। जो पूरी तरह सड़-गल गये हैं। आलम ये है कि गत तीन दिनों से शवों की सड़ांध से इमरजेंसी के पास खड़ा होना भी दुश्वार हो रहा है। जिसके कारण प्रबंधन के आदेश पर गत मंगलवार व बुधवार को सड़े हुए शवों को मर्चरी से हटवाकर दाह संस्कार करवाया गया। इन शवों को ढोने के क्रम में अस्पताल के तीन एंबुलेंस चालक बीमार हो गये हैं। बीमार हुए एंबुलेंस चालकों में रमेश महाली, श्रवण मुखी व अरविंद गोस्वामी हैं। तीनों ही एंबुलेंस चालक बुधवार को छुट्टी पर थे। उक्त जानकारी एंबुलेंस प्रभारी गौरी महाली ने दी।

कर्मचारियों ने बताया कि 24 अगस्त से ही मर्चरी में आठ शव रखे हुए थे। इनमें से पांच शव लावारिश थे। जबकि छह बॉक्स की मर्चरी में तीन बॉक्स पहले से ही खराब थे। वहीं शेष तीन भी पांच दिन पूर्व खराब हो गये। जिसके कारण शव सड़ रहे थे और इससे काफी बदबू आ रही थी। मंगलवार को आठ में से छह शवों को हटवाया गया। वहीं बुधवार को शेष दो शवों को हटवाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MGM s three ambulance drivers ill by carrying rotten dead bodies