DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भूखे रहकर ड्यूटी करने से इंजन में अचेत हुआ लोको पायलट

भूखे रहकर ड्यूटी करने से इंजन में अचेत हुआ लोको पायलट

रेलवे में निजीकरण के खिलाफ व अन्य तीन सूत्री मांगों पर टाटानगर स्टेशन व चक्रधरपुर मंडल के सैकड़ों लोको पायलट ने सोमवार को भूखे रहकर ट्रेन चलाई। इस दौरान टाटानगर के लोको पायलट अंकित सिंह की तबीयत सीनी से बरकाकाना जाने के दौरान इंजन में बिगड़ गई। उन्हें चांडिल से आनंद विहार-पुरी नीलांचल एक्सप्रेस द्वारा टाटानगर लाकर रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लोको पायलट की तबीयत खराब होने की सूचना से रेलवे में हड़कंप मच गया। रेलवे डॉक्टर ने कई जांच के बाद लोको पायलट को खतरे से बाहर बताया है।

टाटानगर में धरना : दक्षिण-पूर्व जोन एएलआरएसए के महामंत्री पारस कुमार समेत दर्जनों लोको पायलट ने 24 घंटे उपवास आंदोलन के तहत टाटानगर लॉबी के पास धरना दिया। अचेत सहकर्मी को अस्पताल पहुंचाने के बाद लोको पायलट फिर से क्रू लॉबी के पास धरना पर बैठ गए। पारस कुमार के अनुसार, निजीकरण का विरोध करते रहेंगे।

आज 11 बजे तक अंदोलन: ऑल इंडिया लोको रनिंग स्टाफ एसोसिएशन के आह्वान पर दक्षिण-पूर्व जोन के चार मंडल रांची, चक्रधरपुर, आद्रा एवं खड़गपुर में करीब साढे पांच हजार ट्रेन चालक मंगलवार को दिन में 11 बजे तक 24 घंटे के उपवास के तहत भूखे रहकर इंजन ड्यूटी करेंगे।

लोको पायलट की मांगें : पुरानी पेंशन स्कीम शुरू करने, 2016 की पेंशन विसंगति में सुधार करना एवं रनिंग भत्ता को आरएसी 1980 सूत्र के अनुरूप ही लागू करना एएलआरएसए की मुख्य मांग है। ट्रेन चालक नेता पारस कुमार ने कहा कि सितंबर में कार्यकारणी की बैठक होगी। इससे आंदोलन की राष्ट्रव्यापी नई योजना बनेंगी।

रेलमंत्री से मिलेंगे प्रसाद: निजीकरण की प्रक्रिया बंद करने और ट्रेन चालको की तीन सूत्री मांगों पर सकारात्मक पहल की मांग पर ऑल इंडिया लोको रनिंग स्टाफ एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव एमएन प्रसाद रेलमंत्री से मिलेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Loco pilot stuck in the engine due to hunger duty