DA Image
13 अप्रैल, 2021|8:34|IST

अगली स्टोरी

कदमा मर्डर : जांच करने पहुंचे डीआईजी ने कहा- दीपक को कोई आपराधिक इतिहास नहीं

कदमा मर्डर : जांच करने पहुंचे डीआईजी ने कहा- दीपक को कोई आपराधिक इतिहास नहीं

कदमा के तीस्ता रोड में क्वार्टर नंबर 97 एन में हुए नृशंस हत्याकांड की जांच करने के लिए मंगलवार को कोल्हान डीआईजी राजीव रंजन सिंह पहुंचे। उन्होंने पूरे घर का मुआयना किया और मौके पर मौजूद एसएससी डॉ एम तमिल वाणन, सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट व कदमा थाना प्रभारी मनोज ठाकुर से पूरे मामले की जानकारी ली। दूसरी ओर रांची से आई फॉरेसिंक टीम ने सैंपल लिये।

डीआईजी ने कहा कि प्रथम दृष्टया लगता है कि पूरे मामले को अकेले दीपक ने ही अंजाम दिया है और मौके से फरार हो गया है। घटना की नृशंषता देखते हुए लगता है कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। हालांकि घटना के कारण का कुछ अता-पता नहीं चल पा रहा है। दीपक का कोई क्राइम रिकॉर्ड भी नहीं है। सभी शवों का पोस्टमार्टम करा दिया गया है। ट्यूशन टीचर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चल सकेगा कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है या नहीं। डीआईजी ने कहा कि दीपक की जल्द गिरफ्तारी होगी और उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उसकी गिरफ्तारी के लिए एसएसपी की अध्यक्षता ने विशेष टीम गठित की गई है।

टाटा स्टील के फायर विभाग के कर्मचारी दीपक कुमार (41) ने रविवार रात अपनी पत्नी वीणा देवी (37), बड़ी बेटी दिया (14) और छोटी बेटी शानवी (7) की हथौड़े से मारकर व तकिये से मुंह दबाकर दम घोटकर मार दिया था। अगले दिन सोमवार को ट्यूशन पढ़ाने आयी रामजनम नगर निवासी रिंकी घोष (21) की भी हत्या कर दी थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kadma Murder DIG arrived to investigate - Deepak has no criminal history