DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमशेदपुर में कचरा चुनने और भीख मांगने वालों को मिली पहचान

जमशेदपुर में कचरा चुनने और भीख मांगने वालों को मिली पहचान

रेलवे स्टेशन व शहर के गली-मुहल्लों में कचरा चुनने व भीख मांगने वालों की भी अब पहचान होगी। जमशेदपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी पारुल सिंह ने बुधवार को करीब 80 लोगों का आधार कार्ड बनवाया।

बागबेड़ा के जिला पार्षद किशोर यादव की पहल पर टाटानगर स्टेशन के पार्सल गेट पर आधार कार्ड शिविर लगा था। यहां फुटपाथ पर जीवन यापन करने वालों (कचरा चुनने व भीख मांगने वालों समेत ठेला व रिक्शा चालक) के आधार कार्ड बनाए गए। यह शिविर टाटानगर स्टेशन निदेशक के आदेश पर लगा था। बागबेड़ा पंचायत की मुखिया मायावती टुडू, नीरज सिंह, बिनोद जायसवाल व रेलवे पार्सल एजेंट निजाम खान ने गृहविहीनों का आधार कार्ड बनाने में सहयोग किया।

गृहविहीन लोगों को मिलेगा राशन कार्ड : बीडीओ पारुल सिंह व जिला पार्षद किशोर यादव ने स्टेशन पर बताया कि, गृहविहीन लोगों का अभी आधार कार्ड बन रहा है। सप्ताहभर में आधार कार्ड आने पर राशन कार्ड बनाने का भी काम शुरू होगा। इसके लिए जमशेदपुर स्थित सार्वजनिक जगहों पर शिविर लग रहे हैं। आधार कार्ड व राशन कार्ड बनाने पर जरूरतमंद लोगों तक सरकार की योजना का लाभ पहुंचेगा।

घर है नहीं स्टेशन बना ठिकाना : गृहविहीन लोगों का आधार कार्ड बनाते समय नाम के साथ पता की जरूरत हुई। इससे कचरा चुनने व भीख मांगने वालों के अवासीय पते पर टाटानगर स्टेशन, नियर सिंह होटल, रेलवे ट्रैफिक कॉलोनी, पोस्ट टाटानगर व थाना बागबेड़ा दर्ज हुआ है।

रेलवे कुली का भी बना आधार : टाटानगर स्टेशन के लाइसेंसी कुली मुकेश कुमार का भी आधार कार्ड पार्सल गेट के शिविर में बना है। कुली को भी सप्ताहभर बाद गृहविहीन के साथ शिविर लगाकर आधार कार्ड मुहैया कराया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Junkhadpur founders to choose garbage and beggars