DA Image
23 अक्तूबर, 2020|4:25|IST

अगली स्टोरी

राशन घोटाले में सौंपी जांच रिपोर्ट, सात पर कार्रवाई की अनुशंसा

default image

जिले में अनाज कालाबाजारी में दोषियों पर कार्रवाई आपराधिक मामले की जांच के बाद होगी। सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट के नेतृत्व में गठित जांच समिति ने डीसी सूरज कुमार को रिपोर्ट सौंप दी है। क्रिमनल केस की जांच चलने के कारण विभागीय कार्रवाई में विलंब होगा। सिटी एसपी के नेतृत्व में सौंपी गई जांच रिपोर्ट में सात पीडीएस डीलर, दो मार्केटिंग ऑफिसर, डोर स्टेप डिलीवरी के एक ट्रांसपोर्टर, एफसीआई गोदाम के एजीएम को दोषी करार देते हुए कार्रवाई की अनुशंसा की गई है। साकची-गोलमुरी और छोटागोविंदपुर के मार्केटिंग ओॅफिसर को कालाबाजारी में लिप्त और उचित निगरानी नहीं करने का दोषी पाया गया। डीसी सूरज कुमार ने बताया कि साकची और गोलमुरी थाने में अनाज कालाबाजारी में पीडीएस डीलरों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज हुआ है। इसकी जांच अभी चल रही है, रिपोर्ट का इंतजार करेंगे। जांच के बाद ही कोई ठोस कार्रवाई संभव है। अभी विभागीय कार्रवाई करना जल्दबाजी होगी। जांच टीम के साथ बैठक के बाद अंतिम निर्णय लेंगे। छोटागोविंदपुर के मार्केटिंग ऑफिसर समेत हावड़ा ब्रिज गोलमुरा थाना क्षेत्र के डोर स्टेप डिलीवरी के ट्रांसपोर्टर दीपक मोहनानी, साकची रिफ्यूजी मार्केट के पीडीएस डीलर परमेश्वरी स्टोर्स संजय मोहनानी, बर्मामाइंस के तीन डीलर लोथाराम मोहनानी, राजेंद्र सिंह, नमिता कर्मकार, रामनाथ एवं दिलकिशोर पासवान को अनाज की कालाबाजारी में लिप्त पाया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Investigation report submitted in ration scam action recommended on seven