DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्टील की खपत बढ़ी तो उत्पादन करना होगा चुनौती

देश में तेजी से स्टील की खपत बढ़ रही है। भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ी स्टील उत्पादक देश है। इसके बावजूद अगर औसत के अनुरूप प्रति व्यक्ति स्टील की खपत बढ़ी तो कंपनियों को मांग के अनुरूप उत्पादन करना बड़ी चुनौती होगी।

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेटल (आईआईएम), जमशेदपुर चैप्टर की ओर से मंगलवार शाम सेंटर फॉर एक्सीलेंस सभागार में आयोजित एमएस खान मेमोरियल व्याखान का आयोजन हुआ। इसे संबोधित करते हुए उषा मार्टिन कंपनी के प्रबंध निदेशक के सलाहकार सह टाटा स्टील के पूर्व उपाध्यक्ष यूके चतुर्वेदी ने ये बातें कहीं।

नई तकनीक से लाएं बदलाव : कार्यक्रम में टाटा स्टील, टीक्यूएम प्रेसिडेंट आनंद सेन ने कहा कि स्टील कंपनियां नई तकनीक को तेजी से अपनाते हुए तेजी से बदलाव लाएं।

इन्हें मिला अवार्ड : टाटा स्टील के चीफ ऑफ ब्लास्ट फर्नेस आरवी रमणा, आरएंडडी के प्रिंसिपल साइंटिस्ट डॉ. वासुदेव भट्टाचार्य, डॉ. विनय वी महाशब्दे, प्रोडक्ट डेवल्पमेंट रिसर्च ग्रुप हेड डॉ. एएन भगत, आईआईएम एस्सार गोल्ड मेटल अवार्ड विजेता डॉ. सिद्धार्थ मित्रा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:If the consumption of steel increases then the challenge will be to produce