DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना खनन किए जमा किया सैकड़ों ट्रक पत्थर का चालान

बिना खनन किए जमा किया सैकड़ों ट्रक पत्थर का चालान

पूर्वी सिंहभूम के खनन कारोबार में एक से बढ़कर एक खेल चल रहा है। ताजा मामला पत्थर घोटाले से जुड़ा है। बिना एक भी पत्थर निकाले सैकड़ों ट्रक निकालने का चालान खनन विभाग के पास जमा किया जा चुका है। इसमें दो लीजधारक शामिल हैं। बुधवार को इसका खुलासा हुआ और गुरुवार को जिला खनन पदाधिकारी व्यंकटेश प्रसाद सिंह ने आरोपियों को नोटिस जारी कर एक सप्ताह में जवाब मांगा। जवाब संतोषजनक नहीं हुआ तो दिखाई गई मात्रा के हिसाब से जुर्माना वसूलने और खनन पट्टा रद्द करने की चेतावनी दी है। असल में बुधवार को जिला खनन पदाधिकारी चाकुलिया के कांटाबनी गए थे। उनके साथ चाकुलिया के सीओ भी थे। वहां पर मेसर्स मेंगोटिया कंस्ट्रक्शन प्रालि के निदेशक राजकुमार मेंगोटिया और मेसर्स गौरव इंटरप्राइजेज के प्रोपराइटर गौरव अग्रवाल को पत्थर खनन का पट्टा मिला हुआ है। मगर लीज क्षेत्र का दृश्य देखकर खनन पदाधिकारी का माथा ठनका, क्योंकि वहां अभी तक खनन शुरू ही नहीं हुआ है। जबकि इन दोनों के द्वारा सैकड़ों ट्रक पत्थर निकालने का चालान जमा किया जा चुका है। अवैध खनन को वैध दिखाने का खेल : खनन से जुड़े जानकारों का मानना है कि इस प्रकार काम करने के पीछे सिर्फ एक ही मतलब हो सकता है। कहीं और से अवैध पत्थर खनन कर उसका इस्तेमाल किया गया और चालान के माध्यम से उसे वैध दिखाया गया। इन नियमों का उल्लंघन वहां चारों ओर सीमा स्तंभ नहीं लगाया गया है साइनबोर्ड नहीं लगाया गया है खनन कार्य माइनिंग प्लान के अनुसार नहीं हो रहा कार्यालय में जमा मासिक विवरणी में बड़े पैमाने पर पत्थर खनन खनन दिखाया गया है जबकि पट्टा क्षेत्र में खनन का प्रमाण ही नहीं दिखता है पट्टे का विवरण मेसर्स मेंगोटिया कंस्ट्रक्शन प्रालि कांटाबनी मौजा में प्लॉट नंबर 13 (अंश) खाता संख्या 164, रकवा 12 एकड़ 15 जनवरी 2016 से 10 वर्षों के लिए मेसर्स गौरव इंटरप्राइजेज कांटाबनी मौजा में प्लॉट नंबर 13 (अंश) खाता संख्या 164, रकवा 11 एकड़ 15 जनवरी 2016 से 10 वर्षों के लिए

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Hundreds of truck stone invoices deposited without mining