DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेल लाइन की मिट्टी धंसने से आधा दर्जन मजदूर व आईओडब्ल्यू घायल

रेल लाइन की मिट्टी धंसने से आधा दर्जन मजदूर व आईओडब्ल्यू घायल

टाटा-बादामपहाड़ रेलमार्ग पर बहलदा रोड स्टेशन के खंभा नंबर 292/01 के पास बुधवार दोपहर दो बजे सबवे बनाने के दौरान लाइन की मिट्टी धंसने से करीब आधा दर्जन ठेका मजदूरों समेत टाटानगर के आईओडब्ल्यू रंजीत कुमार घायल हो गए।

घायल मजदूर ओडिशा स्थित लाइन किनारे के गांवों के रहने वाले थे। इससे ओडिशा के ग्रामीणों का आक्रोश भड़क उठा और नारेबाजी करते हुए उन्होंने काम बंद करा दिया। इधर, मिट्टी के नीचे दबे मजदूरों को जेसीबी के सहारे निकाला गया। रेल सूत्रों के अनुसार, गंभीर रूप से घायल दो मजदूरों को इलाज के लिए रायरंगपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, आईओडब्ल्यू रंजीत कुमार मरहमपट्टी कराने के बाद शाम में टाटानगर पहुंचे।

जान बचाकर भागे एईएन व डीईएन : ओडिशा की लाइन पर सबवे बनाने के लिए टाटानगर के एईएन व चक्रधरपुर मंडल के डीईएन भी बुधवार को सड़क मार्ग से बहलदा रोड गए थे। लेकिन, घटना के बाद ग्रामीणों के भड़कने पर दोनों निर्माण स्थल से जान बचाकर निकल गए।

फोन नहीं उठा रहे एईएन : रेललाइन के नीचे की मिट्टी धंसने के मामले में जानकारी के लिए एईएन से फोन पर संपर्क का प्रयास किया गया। लेकिन, उन्होंने फोन रिसीव नहीं की। जबकि, आईओडब्ल्यू रंजीत कुमार ने अपना फोन किसी दूसरे रेलकर्मी को दे रखा था।

मिट्टी काटने में गलती से हुई घटना: सबवे निर्माण से जुड़े रेलकर्मियों की मानें तो लाइन के नीचे से मिट्टी काटने में गलती हुई है, जिससे यह हादसा हुआ है। सूत्रों के अनुसार, रेललाइन के नीचे से जेसीबी को मिट्टी तिरछे आकार में काटना था, लेकिन घटनास्थल पर सीधा मिट्टी काटने से घटना हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Half a dozen laborers and IOW injured due to soil erosion of railway line