EVM Seal College handed over to CRPF in 22 rooms - 22 कमरों में ईवीएम सील, को-ऑपरेटिव कॉलेज सीआरपीएफ के हवाले DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

22 कमरों में ईवीएम सील, को-ऑपरेटिव कॉलेज सीआरपीएफ के हवाले

जमशेदपुर लोकसभा क्षेत्र की वोटों से भरी ईवीएम को वज्रगृह बनाए गए को-ऑपरेटिव कॉलेज के 22 कमरों में सील कर दिया गया है। किसी कमरे में दो तो किसी में तीन ताले लगाए गए हैं। सोमवार तड़के सवा पांच बजे से सीलिंग की कार्रवाई घाटशिला विधानसभा क्षेत्र से शुरू हुई और साढ़े सात बजे इसका समापन हुआ। उस वक्त प्रेक्षक एम तेयांग, उपायुक्त अमित कुमार, एडीसी सौरव कुमार सिन्हा सहित अन्य विधानसभा क्षेत्रों के आरओ, भाजपा के प्रतिनिधि जितेन्द्र नाथ मिश्रा व कमल किशोर और झामुमो के प्रतिनिधि मौजूद थे। इससे पहले शाम साढ़े पांच बजे से को-ऑपरेटिव कॉलेज में ईवीएम जमा होने लगी, जिसका सिलसिला रात भर चला। बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका और जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र की ईवीएम को चार-चार, जबकि जमशेदपुर पश्चिम और जुगसलाई विधानसभा क्षेत्रों की ईवीएम को तीन-तीन कमरों में रखकर सील किया गया है। जुगसलाई और जमशेदपुर पश्चिम की ईवीएम जिन कमरों में रखी गईं हैं, वे काफी बड़े-बड़े जबकि अन्य 16 कमरे अपेक्षाकृत छोटे-छोटे हैं। जमशेदपुर पश्चिम में 330 और जुगसलाई में 381 बूथ हैं। दूसरी ओर, बहरागोड़ा के 264, घाटशिला के 291, पोटका के 326 और जमशेदपुर पूर्वी के 293 बूथ हैं। ईवीएम को सील करने के बाद को-ऑपरेटिव कॉलेज को सीआरपीएफ के हवाले कर दिया गया है। कॉलेज के मेन गेट और प्रशासनिक भवन के पास मोर्चा का निर्माण किया गया है, जहां जवान तैनात हैं। मतगणना के दिन तक इसी प्रकार का वहां पहरा रहेगा। अंदर किसी को प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई है। अपनी ईवीएम की पहरेदारी के लिए झामुमो और भाजपा की ओर से कॉलेज परिसर में टेंट लगाए गए हैं। टेंट क्रिकेट मैदान के किनारे लगाए गए हैं। सोमवार शाम आयी आंधी में टेंट को नुकसान पहुंचने की सूचना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:EVM Seal College handed over to CRPF in 22 rooms