DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सगाई से 12 दिन पहले युवक की सड़क दुर्घटना में मौत

मानगो स्थित अर्जुन इन्क्लेव निवासी 32 वर्षीय गंगा सागर की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। लेकिन मौत के बाद परिवार वालों ने गंगा सागर जिस कंपनी में काम करते थे उसके प्रबंधन पर दुर्घटना के बाद लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। परिजनों के अनुसार गंगा सागर रविवार को डिस्ट्रीब्यूटर के ऑटो से सामानों की आपूर्ती के लिए सोनारी रामनगर की ओर गए थे। दोपहर करीब दो बजे रामनगर के पास ऑटो पलट गई। इसमें गंगा सागर और दूसरे स्टॉफ मृत्युंजय घायल हो गए। गंगा को अंदरूनी  चोट लगी थी। लेकिन कंपनी वालों ने उसे अस्पताल ले जाने के बजाए सोनारी स्थित ऑफिस लेकर चले गए। सागर को शाम पांच बजे अचानक बेचैनी और दर्द होने लगा। वह बाइक से किसी तरह घर पहुंचा। परिजन उसे अस्पताल ले गए जहां उसकी मौत हो गई। मृत्यु के बाद परिवार वालों ने शव उठाने से इंकार कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने कंपनी वालों को टीएमएच बुलाया। टीएमएच पहुंचे डिस्ट्रीब्यूटर ने कंपनी की लापरवाही से इंकार किया। उन्होंने कहा कि वे अपने कर्मचारियों का पूरा ख्याल रखते हैं। उनकी तरफ से कोई लापरवाही नहीं करती गई। घर वालों ने शव को अस्पताल के शीतगृह में रखवा दिया। सागर के पिता शत्रुध्न प्रसाद मानगो पीएफ ऑफिस में  कार्यरत हैं। उन्होंने कहा कि जब तक मुआवजा नहीं मिलेगा शव नहीं उठाएंगे। 11 अगस्त को गंगा सागर की सगाई तय हो गई थी। परिवार वाले बेटे की शादी की तैयारी में थे। छोटा भाई सेन इंटरनेशनल स्कूल में एकाउंटेंट के पद पर कार्यरत हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Death in road accident 12 days before engagement