Cremation ground measurement on railway notice - रेलवे नोटिस पर श्मशान भूमि की हुई मापी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे नोटिस पर श्मशान भूमि की हुई मापी

रेलवे की नोटिस से परेशान सलगाझूरी, बामनगोड़ा व बारीगोड़ा के दर्जनों दुकानदारों को रोजगार के लिए जमीन मिलने की उम्मीद है। क्योंकि, बीस सूत्री के प्रखंड अध्यक्ष राम सिंह मुंड़ा, परमानंद सिंह व मुखिया उमेश पुरान की मांग पर अंचालाधिकारी ने गुरुवार को श्मशान भूमि की मापी कराई है। मापी में दर्जनों ग्रामीण (महिला-पुरुष) समेत विभिन्न पार्टियों के समर्थक भी शामिल हुए।

दरअसल, अमृतसर की घटना के बाद आरपीएफ ने रेल लाइन किनारे स्थित दुकानों को हटाने का नोटिस दिया है। दुकानों के हटने से लोगों की आमदनी पर प्रभाव पड़ता। रोजीरोटी का दिक्कत होना था। विकल्प स्थल की खोज में जुटे दुकानदारों ने श्मशान की खाली जमीन को उचित समझा। उपायुक्त को ज्ञापन देकर श्मशान भूमि को कब्जामुक्त कराने की मांग रखी गई थी। इससे अचंलाधिकारी ने जमीन की मापी कराई। ताकि, रेललाइन से हटने वाले दुकानदारों को अस्थाई रूप से श्मशान भूमि में जगह मिले।

श्मशान भूमि की मापी में लोहार समाज के मंगल लोहार, संथाल समाज के दीनानाथ मरांड़ी, कुर्मी समाज के नवीन महतो, उड़िया समाज के विश्वनाथ साहू, पंचायत समिति सदस्य झुरगी हो, सलगाझूरी ग्राम के माझी शिवचरण टुडू, भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के नेता बिनानंद सिरका के साथ दर्जनों लोगों ने सरकारी कार्य में सहयोग किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cremation ground measurement on railway notice