DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निबंधन संख्या 98 के नाम पर भ्रम फैलाने की साजिश

कुछ तथाकथित लोग निबंधन संख्या 98 को लेकर भ्रम फैलाने की साजिश कर रहे हैं। यह पूरी तरह से कोर्ट की अवमानना है।

टेल्को वर्कर्स यूनियन महामंत्री प्रकाश कुमार ने मंगलवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए यह बातें कहीं। बकौल प्रकाश कुमार, वेकेशन कोर्ट में गुरमीत सिंह के अधिवक्ता ने बताया था कि टेल्को वर्कर्स यूनियन की निबंधन संख्या 98 रद्द हो चुकी है। फिलहाल उक्त संख्या पाकुड जिला ट्रक ऑनर्स एसोसिएशन को आवंटित है। लेकिन महामंत्री प्रकाश कुमार का तर्क है कि टेल्को वर्कर्स यूनियन की निबंधन संख्या 98, यूनियन को 20 सितंबर 1946 को बिहार सरकार द्वारा आवंटित हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Conspiracy to spread confusion over the name of essay number 98