ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड जमशेदपुरटाटा वर्कर्स यूनियन में ईसीबीएस 2 पर भिड़े कमेटी मेंबर

टाटा वर्कर्स यूनियन में ईसीबीएस 2 पर भिड़े कमेटी मेंबर

टाटा वर्कर्स यूनियन में ईसीबीएस 2.0 को लेकर कमेटी मेंबर आपस में भिड़ने लगे हैं। कमेटी मेंबरों के व्हाट्सएप ग्रुप पर पक्ष व विपक्ष में तकरार शुरू हो गई...

टाटा वर्कर्स यूनियन में ईसीबीएस 2 पर भिड़े कमेटी मेंबर
हिन्दुस्तान टीम,जमशेदपुरSat, 24 Feb 2024 05:45 PM
ऐप पर पढ़ें

टाटा वर्कर्स यूनियन में ईसीबीएस 2.0 को लेकर कमेटी मेंबर आपस में भिड़ने लगे हैं। कमेटी मेंबरों के व्हाट्सएप ग्रुप पर पक्ष व विपक्ष में तकरार शुरू हो गई है। कंपनी प्रबंधन की ओर से एनएस ग्रेड के लगभग 4 हजार कर्मचारियों के प्रमोशन के लिए ईसीबीएस 2.0 अनिवार्य कर दिया गया है। जबकि ये कर्मचारी पूर्व में ईसीबीएस 1.0 की परीक्षा पास कर चुके हैं और पुराने नियम के अनुसार इनका प्रमोशन होना चाहिए। प्रबंधन के नए नियम की वजह से इनका प्रमोशन लटक गया है।
कर्मचारी हित में हमेशा आवाज बुलंद करने वाली यूनियन के नेता सचिव नितेश राज ने इस मुद्दे को जोरदार ढंग से उठाते हुए अध्यक्ष से कर्मचारी हित में फैसला लेने के लिए तत्काल ऑफिस बेयरर्स की मीटिंग बुलाने का आग्रह यूनियन के अधिकारिक व्हाट्सएप ग्रुप में किया है। सहायक सचिव के मजदूर हित में आवाज बुलंद करने पर सिंटर प्लांट 4 के कमेटी मेंबर संतोष पांडेय ने नितेश राज की मांग का विरोध करते हुए पोस्ट किया कि अध्यक्ष ही इस मामले में जो फैसला करेंगे, वह सर्वमान्य होगा। मजदूर हित का मुद्दा उठाने वाले नितेश राज को ही मजदूर विरोधी बताने का प्रयास किया गया। हद तो तब हो गई, जब संतोष पांडेय के साथ पुराने ग्रेड के कमेटी मेंबरों के साथ एनएस ग्रेड के कुछ कमेटी मेंबर भी संतोष पांडेय का समर्थन करने लगे। संतोष पांडेय का समर्थन करने वालों में फील्ड मेंटेनेंस इलेक्ट्रिकल से कमेटी मेंबर विवेक कुमार, लाइम प्लांट के निशांत कुमार जायसवाल, श्याम सुंदर गोप, एचएसएम से निखिल कुमार, हेमंत कुमार और अमनदीप, सीआरएम से सूरज कुमार, गुलाबचंद यादव और रॉ मटेरियल मैनेजमेंट से संजय कुमार सिंह शामिल थे। इन नेताओं ने ईसीबीएस 2 के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले यूनियन पदाधिकारी नितेश राज को विरोधी बताते हुए स्पष्ट कर दिया कि अध्यक्ष जो फैसला लेंगे वह मंजूर होगा। मालूम हो कि अध्यक्ष समेत यूनियन के टॉप थ्री की सहमति से ही प्रबंधन की ओर से ईसीबीएस 2 यानी पदोन्नति के नए नियम को लागू किया गया है। जबकि यूनियन के अन्य सभी कमेटी मेंबर व ऑफिस बेयरर्स ने नितेश राज की बातों का समर्थन किया और मीटिंग का समर्थन करने के साथ मुद्दा को गंभीरता से लेने की बात कही। ईसीबीएस 2 के विरोध में आवाज बुलंद करने वालों में सुशांत शेखर, मनोज कुमार स्पेयर्स मैन्युफैक्चरिंग से अभिनंदन, धनंजय, मनोज मिश्रा, अरविंद यादव आदि शामिल हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें