DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी ट्रेड लाइसेंस रैकेट में एक और गिरफ्तार

फर्जी ट्रेड लाइसेंस रैकेट में एक और गिरफ्तार

एक सप्ताह के अंदर यह तीसरा मामला है, जब जेएनएसी ने फर्जी म्युनिसिपल लाइसेंस बनाने के आरोप में तीसरे व्यक्ति को धर दबोचा। इससे पहले साकची में दो युवकों को फर्जी लाइसेंस के साथ जेल भेजा जा चुका है।

मंगलवार को भी बिष्टूपुर में जूता व्यापारी सैफ अली के नाम से फर्जी ट्रेड लाइसेंस का मामला प्रकाश में आया। व्यवसायी की निशानदेही पर एक निजी बैंक के कर्मचारी को जेएनएसी के उड़नदस्ता दल ने पकड़ा। विशेष पदाधिकारी संजय कुमार ने अपने कार्यालय में पूछताछ की, जिसमें बैंककर्मी ने कई ऐसी महत्वपूर्ण सूचनाएं दी हैं, जिनके आधार पर फर्जीवाड़ा करने वाले बड़े गिरोह का भंडाभोड़ होने की उम्मीद है। फर्जी ट्रेड लाइसेंस का उपयोग या तो चालू खाता खोलने के लिए किया जा रहा था या फिर बैंक ऋण लेने के लिए। इसलिए विशेष पदाधिकारी ने सभी बैंक प्रबंधकों से भी अपील की है कि किसी भी ट्रेड लाइसेंस के आधार पर लोन आदि देने के पहले ऐसे ट्रेड लाइसेंस का जरूर सत्यापन कर लें जो ऑफलाइन बने हों।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Another arrested in fake trade license racket