DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

44,379 किसानों के खाते में भेजे गए 9 करोड़

44,379 किसानों के खाते में भेजे गए 9 करोड़

1 / 3प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पूर्वी सिंहभूम में 23,560 किसानों को प्रथम और 20,819 किसानों को दूसरी किस्त के रूप में करीब 9 करोड़ रुपये का भुगतान सोमवार को कर दिया गया। राशि उनके खाते...

44,379 किसानों के खाते में भेजे गए 9 करोड़

2 / 3प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पूर्वी सिंहभूम में 23,560 किसानों को प्रथम और 20,819 किसानों को दूसरी किस्त के रूप में करीब 9 करोड़ रुपये का भुगतान सोमवार को कर दिया गया। राशि उनके खाते...

44,379 किसानों के खाते में भेजे गए 9 करोड़

3 / 3प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पूर्वी सिंहभूम में 23,560 किसानों को प्रथम और 20,819 किसानों को दूसरी किस्त के रूप में करीब 9 करोड़ रुपये का भुगतान सोमवार को कर दिया गया। राशि उनके खाते...

PreviousNext

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पूर्वी सिंहभूम में 23,560 किसानों को प्रथम और 20,819 किसानों को दूसरी किस्त के रूप में करीब 9 करोड़ रुपये का भुगतान सोमवार को कर दिया गया। राशि उनके खाते में पहुंच गई है। इस प्रकार कुल 44,379 किसानों के खाते में ही पैसा पहुंच पाया। मगर जिला से 22,906 किसानों को पहली और 25,867 किसानों को दूसरी किस्त अर्थात 48,773 किसानों के लिए पौने दस करोड़ रुपये दिए जाने की अनुशंसा की गई थी। मगर किसानों के द्वारा जमा उनके बैंक के आईएसएफसी कोड और अधार नंबर के मैच नहीं करने के कारण बाकी के खाते में पैसा सुधार व मिलान के बाद में जाएगा। यह जानकारी एडीसी सौरव कुमार सिन्हा ने दी। किसान समृद्ध होंगे तो देश समृद्ध होगा : टुडू :देश के किसान समृद्ध होंगे तो देश समृद्ध होगा। देश के किसानों को खेती करने के लिए किसी साहूकार व जमींदार से कर्ज नहीं लेना पड़े, इस उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है। प्रधानमंत्री का सपना 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना है। ये बातें विधायक लक्ष्मण टुडू ने सोमवार को एक्सएलआरआई के टाटा ऑडिटोरियम में सोमवार को कहीं। वे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लेकर आयोजित जिलास्तरीय समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।योजना की विशेषता पैसा सीधे खाते में जाना : कुणाल- विधायक कुणाल षाड़ंगी ने कहा कि कोई योजना अच्छी और बुरी नहीं होती। उस योजना का लाभ लाभुकों को कितनी आसानी से मिल पाता है, वही उस योजना की सफलता का पैमाना होता है। उन्होंने कहा कि पीएम किसान योजना की खूबसूरती यह है कि अनुदान राशि सीधे लाभुक के खाते में डीबीटी के माध्यम से भेजा जाएगा। इससे बिचैलिए पूरी तरह समाप्त हो जाएंगे। उन्होंने जमीन पर दावेदारी के विवाद को जल्द से जल्द समाप्त करने की बात कही ताकि अधिकाधिक किसानों को इसका लाभ मिल सके।कार्यक्रम को जिला परिषद की अध्यक्ष बुलुरानी सिंह व उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह, 20 सूत्री के जिला उपाध्यक्ष दिनेश साव, डीडीसी विश्वनाथ माहेश्वरी, कृषि एवं पशुपालन विभाग के संयुक्त संचित राजदीप जॉन, सांसद और विधायक प्रतिनिधियों ने भी संबोधित किया। इस दौरान कुछ किसानों को सांकेतिक रूप से डमी चेक प्रदान किया गया। समारोह में जिले के करीब डेढ़ हजार किसान पहुंचे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:9 crore sent in acccount of 44 373 farmers of east singhbhum