अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुष्कर्म के मामले में दोषियों को बीस वर्ष की सजा

सिविल कोर्ट में मंगलवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रथम रमेश कुमार ने कटकमदाग निवासी मो सद्दाम हुसैन और मो आरिफ को दोषी करार देते हुए बीस वर्ष का कारावास और पच्चीस हजार रुपए जुर्माने की सजा सुना दी। जुर्माने की राशि अदा नहीं करने पर उसे एक वर्ष का अतिरक्ति सजा भुगतना होगा। कोर्ट ने यह सजा भादवि की धारा 376 डी के तहत सुनाई। वहीं भादवि की धारा 366 के तहत दोनों को दस वर्ष और पांच हजार रुपए जुर्माने की सजा हुई। जुर्माने की राशि अदा नहीं करने पर उसे छह माह का अतिरक्ति कारावास भुगतना होगा।

यह मामला कटकमदाग थाना कांड संख्या 54/15 से संबंधित है। जिसमें सूचक ने पूलिस को बताया था कि दिनांक 01.05.15 को पीड़िता को अगवा कर दोनों दोषियों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया था। जिसके बाद यह मामला दर्ज कराया गया। अभियोजन पक्ष की ओर से पैरवी अपर लोक अभियोजक मनोज कुमार कर रहे थे। इस मामले में अभियोजन पक्ष ने कई गवाहों और प्रदर्श अंकित कराया था। कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद यह फैसला सुनाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Twenty year sentence for culprits in rape case