DA Image
29 जनवरी, 2020|1:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिरहोर समुदाय को योजनाओं का लाभ देने के लिए उठायें आवश्यक कदम: उपायुक्त

default image

गुरुवार को नीति आयोग के आकांक्षी जिलों की समीक्षा बैठक उपायुक्त डॉ. भुवनेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई। उन्होंने बारी-बारी से उपस्थित संबंधित अधिकारियों से योजनाओं की प्रगति पर विस्तार से चर्चा की। मौके पर सिविल सर्जन से गर्भवती महिलाओं की हॉस्पिटल में प्रसव से संबंधित स्थिति की जानकारी ली इस संबंध में सिविल सर्जन ने किसी भी महिला का प्रसव घर में ना होकर स्वास्थ्य केंद्र में होने की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं पोषण संबंधी जरूरतों की निगरानी की जा रही है। उपायुक्त ने शिक्षा विभाग की समीक्षा के क्रम में शिक्षक-विद्यार्थी के अनुपात पर विशेष ध्यान देने की बात कही।

उन्होंने विद्यालय में शिक्षकों की पूर्ण उपस्थिति तथा जरूरत होने पर घंटी आधारित शिक्षकों की नियुक्ति की बात कही, ताकि बच्चों में शिक्षा के प्रति जागरूकता लाई जा सके। ग्रामीण इलाकों में चल रहे सड़कों की स्थिति सुदृढ़ करने के लिए उन्होंने संबंधित अधिकारी को कार्य में प्रगति लाने की बात कही तथा तय मापदंडों एवं लक्ष्यों के अनुरूप कार्य करने का निर्देश दिया। वहीं पशुपालन पदाधिकारी से चल रही कार्यक्रमों की समीक्षा की। साथ ही पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को विद्यालय में दो सप्ताह के अंदर पीने योग्य पानी की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। मौके पर जेएसएलपीएस के जिला समन्वयक को व्यवसायिक प्रशिक्षण दिए जाने वाले प्रशिक्षण के लिए रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश दिया गया है।उपायुक्त ने उपस्थित सभी पदाधिकारियों को बिरहोर परिवारों की आर्थिक स्थिति और मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए लक्ष्य निर्धारित कर कार्य करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जिले में बिरहोर परिवार की स्थिति काफी दयनीय है इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने बताया सरकार इनके विकास के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। बिरहोर बस्तियों में शौचालय, गैस कनेक्शन, स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली आदि सभी की स्थिति सुदृढ़ हो इस कार्य पर बल दिये जाने की जरूरत है। शौचालय की स्थिति काफी गंभीर होने की बात पर उन्होंने मौके पर उपस्थित पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता को इस कार्य हेतु निर्देशित किया। डीसी ने बिरहोर बस्ती में विद्यालयों की स्थिति पर ध्यान देते हुए शिक्षकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अगर कोई अहर्ताधारी शिक्षित बिरहोर युवक-युवती हो तो वह होमगार्ड के रिक्त पदों पर आवेदन निशुल्क दे सकते हैं। उन्होंने उपस्थित पदाधिकारियों को भी इस बाबत उन्हें रिक्त पदों पर आवेदन देने के लिए जागरूक करने की बात कही। उन्होंने बिरहोर इलाकों में सोलर लाइट की स्थिति, पेंशन, आंगनवाड़ी केंद्रों में चिक्की च्यवनप्रास का वितरण, व्यवसाय के लिए मुर्गी पालन, बकरी पालन, स्वास्थ्य की स्थिति बेहतर करने के लिए मेडिकल हेल्थ कैंप, रोजगार, व्यवसाय हेतु प्रशिक्षण, नरेगा में पंजीकरण, पेंशन का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड बनवाने के लिए शिविर लगाने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों दिया। मौके पर सदर एसडीओ मेघा भारद्वाज, अपर समाहर्ता दिलीप तिर्की, अपर समाहर्ता भू.ह. प्रदीप तिग्गा सहित जिला स्तरीय पदाधिकारी व कार्यपालक अंभियंता व अन्य मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Take necessary steps to give benefits of schemes to Birhor community Deputy Commissioner