DA Image
25 जनवरी, 2020|2:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खरमास खत्म, अब फिर बजेंगी शादी की शहनाइयां

default image

मकरसंक्राति की समाप्ति के बाद से खरमास समाप्त हो गया है। अब शादी विवाह का आयोजन शुरू होगा। सड़कों पर बैंड-बाजा के साथ नाचते-गाते बाराती नजर आने लगेंगे। पिछले एक माह से खरमास के चलते शुभ मांगलिक कार्य बंद थे। मिथिला पंचांग के अनुसार 2020 में 17 जनवरी से शादी-ब्याह के शुभ मुहूर्त शुरू हो रहे हैं। वहीं बनारसी पंचांग के अनुसार 16 जनवरी से शादी के शुभ मुहूर्त शुरू हो चुके हैं।

जनवरी से जून के बीच कुल 45 शुभ विवाह मुहूर्त बन रहे हैं। जनवरी में 31 तारीख तक दस शुभ मुहूर्त हैं। फरवरी में सबसे अधिक 13 शुभ मुहूर्त हैं। मार्च और जून में केवल छह शुभ मुहूर्त हैं, जबकि मई में दस हैं। वहीं मिथिला पंचांग के मुताबिक 17 जनवरी से 17 जून के बीच कुल 44 शुभ मुहूर्त हैं। होटलों में बुकिंग शुरूशादी का सीजन शुरू होते ही होटलों में बुकिंग शुरू हो गयी है। शहर के होटलों में वैसे तीन महीने पूर्व ही शादी विवाह करने वालों ने बुकिंग करा ली थी। बैंड बाजा आदि की बुकिंग पहले ही हो चुकी है। जून जुलाई में जिनकी शादी है उनकी बुकिंग चल रही है।स्थान को लेकर दिक्कतशादी विवाह करने वालों के लिए सबसे अधिक दिक्कत स्थान को लेकर होने लगी है। अचानक जिनकी शादी तय होती है उन्हें स्थान लेने में मुश्किल होती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kharmaas is over wedding clarinets will ring again