Former Finance Minister Arun Jaitley dies irreparable loss to the country - पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति

default image

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शुक्रवार को दिल्ली एम्स में निधन होने की सूचना पर हजारीबाग में पक्ष और विपक्ष के लोगों ने शोक संवेदना जतायी है। सबों ने उन्हें एक विचारवान नेता, कानून का ज्ञाता और एक व्यवहारिक इंसान बताया। जीएसटी को लागू करवाने में उनके योगदानों को याद किया।

निशब्द हूं, स्तब्ध हूं: जयंत सिन्हा

हजारीबाग के सांसद और पूर्व नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने अपने शोक संदेश में कहा है कि अरुण जेटली मेरे अभिभावक समान थे। मैं नि:शब्द हूं, स्तब्ध हूं। उनका जाना मेरे लिए निजी क्षति है। वह सदैव हमारी यादों में जीवित रहेंगे। ईश्वर से प्रार्थना है की वे उन्हें अपनी शरण में लें और सभी को संबल प्रदान करें। ओम शांति।

पूर्व मंत्री जेटली के निधन से बड़ी क्षति:

मनीष जायसवालसदर विधायक मनीष जायसवाल ने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि वह एक बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। सरल और मिलनसार व्यक्ति थे। संसद के भीतर और बाहर हर मामलों का विश्लेषण करते थे। उनकी ख्याति न सिर्फ पार्टी में बल्कि अन्य राजनीतिक दलों में भी थी। उनके निधन से एक पार्टी में एक रिक्ति आ गयी है। उनकी कमी पार्टी को हमेशा खलेगी।

अच्छे वक्ता और अच्छे संगठनकर्ता थे जेटली:

डॉ वंशीधर रुखैयारविनोबा भावे के रजिस्ट्रॉर डॉ वंशीधर रुखैयार ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परषिद से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले अरुण जेटली ने व्यक्तिगत परिश्रम से राजनीति की उंचाई को प्राप्त किया। वह एक अच्छे वक्ता, अच्छे वकील और एक अच्छे संगठनकर्ता थे। उनका निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति है। उन्होंने वित्तमंत्री रहते जीएसटी जैसी समग्र प्रणाली पर बड़ा काम किया।

देश ने एक कद्दावर नेता खो दिया:

प्रो सुरेंद्र सिन्हासांसद प्रतिनिधि सह केबी महिला महाविद्यालय के व्याख्याता प्रो सुरेंद्र सिन्हा ने कहा कि अरुण जेटली एक शिक्षाविद भी थे। उनका निधन देश के लिए एक बड़ी क्षति है। वह कानून के भी अच्छे जानकार थे। एक बेहत अधिवक्ता थे। संगठन कर्ता थे। उन्होंने कम समय में साबित किया कि वह एक बेहतर वित्त मंत्री भी थे। देश ने एक कद्दावर नेता खो दिया। --ईश्वर परिजनों को दुख सहने की शक्ति दे: संजर मल्लिक हजारीबाग राजद के जिलाध्यक्ष संजर मल्लिक ने कहा कि अरुण जेटली का असमय दुनिया छोड़ जाना बहुत ही दुखद है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे। साथ ही परिजनों को दुख सहने की ताकत दे। अरुण जेटली न सिर्फ एक अच्छे इंसान थे बल्कि एक विचारवान वक्ता भी थे। उनकी बातों में जानकारी का खजाना दिखता था।

व्यवहारकुशल राजनीतिज्ञ थे जेटली:

मुन्ना सिंह कांग्रेस नेता मुन्ना सिंह ने कहा है कि अरुण जेटली का असमायिक निधन देश के लिए क्षति है। वह व्यवहारकुशल राजनीतिज्ञ थे। उनके निधन से राजनीति को नुकसान हुआ है। लोग उनकी कद्र पढे़ लिखे नेता के रूप में करते थे। भगवान से उनके परिजनों को आत्मबल देने की प्रार्थना करता हूं। साथ ही उनकी आत्मा की शांति की कामना करता हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Former Finance Minister Arun Jaitley dies irreparable loss to the country