ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड हज़ारीब़ागहजारीबाग निवासी बीएसएफ जवान सुभाष का इंदौर सीएसटीसी में कुएं से मिला शव

हजारीबाग निवासी बीएसएफ जवान सुभाष का इंदौर सीएसटीसी में कुएं से मिला शव

हजारीबाग के युवक और बीएसएफ इंदौर एसटीसी में पदस्थापित हेड कांस्टेबल सुभाष कुमार (25) का शव इंदौर में बटालियन के कुएं से मिला। जानकारी अनुसार बीते...

हजारीबाग निवासी बीएसएफ जवान सुभाष का इंदौर सीएसटीसी में कुएं से मिला शव
हिन्दुस्तान टीम,हजारीबागThu, 22 Feb 2024 02:00 AM
ऐप पर पढ़ें

हजारीबाग वरीय संवाददाता
हजारीबाग के युवक और बीएसएफ इंदौर एसटीसी में पदस्थापित हेड कांस्टेबल सुभाष कुमार (25) का शव इंदौर में बटालियन के कुएं से मिला। जानकारी अनुसार बीते सप्ताह के शुक्रवार 16 फरवरी से ही इंदौर में एसटीसी बीएसएफ कैंप में प्रशिक्षण केंद्र से सुभाष मिसिंग थे। उनकी खोजबीन जारी थी। उनके पिता होरिलेश्वर साव के मुताबिक बटालियन से सुभाष की मिसिंग की सूचना दी गयी। इसके बाद उनके बड़े पुत्र अशोक कुमार अपने छोटे भाई को ढूढ़ने के लिए इंदौर गए थे। वहां सीसीटीवी खंगाला गया तो उनके कैंपस से बाहर जाने की पुष्टि नहीं हुई। ऐसे में उनकी तलाश कैंपस के अंदर ही आसपास में शुरू हुई। खोजबीन के दौरान सोमवार 19 फरवरी को अचानक बैरक के बगल में स्थित कुआं नंबर (आठ) से सुभाष कुमार का शव संदेहास्पद स्थिति में मिला। पिता होरिलेश्वर साव की ओर से मीडिया को दिए गए बयान में परिस्थितियों को देखते हुए हत्या की आंशका जतायी गयी है। उन्होंने कहा है कि उनके बेटे के शव की जीभ बाहर थी और गर्दन में लाल निशान थे। इससे ऐसा लग रहा है कि उसकी हत्या हुई है। उन्होंने अपने अनुभव का हवाला देते हुए कहा कि पानी में डूबने से किसी की मौत होती है तो पेट फूल जाता है पर ऐसा नहीं हुआ। पिता ने इस घटना की सीबीआई से जांच की मांग भी उठायी है, ताकि वास्तिवक स्थिति पता चल सके। वैसे अन्य परिजन पोस्टमार्टम की जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। इधर बुधवार की सुबह सुभाष का शव हजारीबाग के ओरिया गांव लाया गया। जहां सम्मान के साथ सम्मान पूर्वक अंतिम संस्कार किया गया। बीएसएफ की ओर से तोपों की सलामी दी गयी। मौके पर पूरा गांव उमड़ पड़ा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें