Ali Hasan ceased to be the Sadar of Ajmeri Mosque - अजमेरी मस्जिद के सदर का अली हसन नहीं रहे DA Image
12 दिसंबर, 2019|8:58|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अजमेरी मस्जिद के सदर का अली हसन नहीं रहे

default image

कांग्रेसी नेता और चिश्ती मोहल्ला के अजमेरी मस्जिद के सदर अली हसन अंसारी का बुधवार सुबह हृदय गति रुक जाने से उनके आवास पर इंतकाल हो गया। अली हसन अंसारी मोमिन कॉन्फ्रेंस के प्रदेश उपाध्यक्ष के पद पर विगत कई सालों से जुड़कर समाजिक हितों लिए काम करते रहे हैं। कांग्रेस पार्टी से उनका शुरू से ही लगाव रहा है। वह अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। उनके बड़े पुत्र इनकम टैक्स कंसलटेंट एडवोकेट रहमतुल्लाह ने बताया कि कल गुरवार को 5 दिसम्बर को सुबह 9 बजे खिरगांव स्थित कब्रिस्तान में नमाज़ जनाज़ा अदा की जाएगी और सुपुर्द खाक किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ali Hasan ceased to be the Sadar of Ajmeri Mosque